Breaking News

इंग्‍लैंड एंड वेल्‍स की मेजबानी में होने वाले 12वें आईसीसी क्रिकेट वर्ल्‍ड कप में दस टीमें मैदान में हैं और सभी चैंपियन बनने के लिए एक-दूसरे को पटखनी देने के लिए तैयार हैं. हम यहां इन टीमों के सभी दस कप्‍तानों से रूबरू करवा रहे हैं.

विराट कोहली (भारत)
1983 और 2011 वर्ल्‍ड कप जीतने वाली टीम इंडिया इस बार विराट कोहली की कप्‍तानी में इस महाकुंभ में उतर रही है. वह वर्ल्‍ड कप में पहली बार कप्तानी करते नजर आएंगे. कोहली ने अब तक 227 वनडे मैचों में 59.57 के औसत से 10843 रन बनाए हैं, जिसमें 41 शतक शामिल हैं. जबकि उन्‍हें 68 मैचों कप्‍तानी करने का अनुभव हासिल है.
 


इयोन मोर्गन (इंग्लैंड)
20 साल बाद इंग्लैंड एक बार फिर वर्ल्‍ड कप की मेजबानी कर रही है. आखिरी बार 1999 वर्ल्‍ड कप की मेजबानी करने वाली ये टीम इस बार इयोन मोर्गन की कप्‍तानी में मैदान में है और उसे हर कोई खिताब का प्रबल दावेदार मान रहा है. उन्‍होंने अब तक 222 वनडे मैचों में 39.64 के औसत 6977 रन बनाए हैं, जिसमें 12 शतक शामिल हैं. अपने चौथे वर्ल्‍ड कप में उतर रहे 32 साल के मोर्गन को 100 मैचों में कप्‍तानी करने का अनुभव हासिल है.
 



एरॉन फिंच (ऑस्ट्रेलिया)
पांच बार की वर्ल्‍ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया की निगाहें छठे खिताब पर हैं और इस बार टीम की अगुआई एरॉन फिंच कर रहे हैं. 32 साल के इस खिलाड़ी ने अब तक 109 वनडे मैचों में 39.33 के औसत 4052 रन बनाए हैं. जबकि इस दौरान उनके बल्‍ले से 13 शतकीय पारियां निकली हैं. फिंच को 18 मैचों की कप्‍तानी का अनुभव है.
 



सरफराज अहमद (पाकिस्तान)
1992 की वर्ल्‍ड कप चैंपियन पाकिस्तान की नजर दूसरी बार खिताब जीतने पर है और टीम की कप्‍तानी सरफराज अहमद कर रहे हैं. इस 32 साल के विकेटकीपर बल्‍लेबाज़ ने अब तक 106 वनडे मैचों में 34.88 के औसत 2128 रन (दो शतक) बनाए हैं. वहीं, विकेट के पीछे 146 कैच पकड़े हैं तो 21 को स्‍टंम्‍प किया है. वह 40 मैचों में टीम को लीड करने का अनुभव रखते हैं.
 


फाफ डू प्लेसी (साउथ अफ्रीका)
साउथ अफ्रीका को बड़े टूर्नामेंट्स की चोकर्स टीम माना जाता है और इस बार यह 34 साल के फाफ डू प्‍लेसी की कप्‍तानी में वर्ल्‍ड कप खेलेगी. अपने पहले वर्ल्‍ड कप खिताब की तलाश में जुटी इस टीम के कप्‍तान ने अब तक 134 वनडे मैचों में 46.54 के औसत से 5120 रन बनाए हैं, जिसमें 11 शतक शामिल हैं. जबकि इस धाकड़ खिलाड़ी ने 30 मैचों में टीम को लीड किया है.
 

केन विलियमसन (न्यूजीलैंड)
पिछली बार की रनर-अप रही कीवी टीम इस बार केन विलियमसन की कप्तानी में अपना पहला खिताब जीतने की पूरी कोशिश करेगी. 28 साल के केन ने अब तक 139 वनडे मैचों में 45.90 के औसत 554 रन बनाए हैं और इस दौरान उनके बल्‍ले से 11 शतक निकले हैं. वहीं, उन्‍हें 65 मैचों में कप्‍तानी करने का अनुभव है.
 


मशरफे मुर्तजा (बांग्लादेश)
आईसीसी का मौजूदा वर्ल्‍ड कप राउंड रॉबिन और नॉक आउट फॉर्मेट में हो रहा है और इस कारण बांग्‍लादेश भी खिताब जीत सकती है. इस बार टीम 35 साल के मुशरफे मुर्तजा की कप्‍तानी में उतर रही है. 209 वनडे मैचों में 1752 रन बनाने के साथ-साथ 31.69 के औसत से 265 विकेट लेने वाले इस खिलाड़ी ने 77 मैचों में टीम की कप्‍तानी की है.
 


दिमुथ करुणारत्ने (श्रीलंका)
श्रीलंका टीम इस बार 31 साल के दिमुथ करुणारत्ने की कप्‍तानी में खेल रही है. 1996 में ऑस्ट्रेलिया को हराकर पहली बार वर्ल्‍ड कप का खिताब जीतने वाली इस टीम के कप्‍तान को 18 वनडे मैचों का अनुभव है. वहीं, अब तक उन्‍होंने सिर्फ एक मैच में कप्‍तानी की है.
 



जेसन होल्डर (वेस्टइंडीज)
दो बार (1975, 1979) की वर्ल्‍ड कप चैंपियन वेस्टइंडीज की नजरें तीसरी बार खिताब हासिल करने पर होगी. क्रिस गेल, आंद्रे रसेल, शिमरॉन हेटमायर आदि स्‍टार खिलाड़ियों से सजी ये टीम जेसन होल्‍डर की कप्‍तानी में अपनी नई पहचान के लिए उतावली दिखाई दे रही है. 27 साल के होल्‍डर ने अब तक 95 वनडे खेले हैं और मजेदार बात ये है कि इसमें से 74 में कप्‍तानी की जिम्‍मेदारी निभाई है.
 

गुलबदीन नाईब (अफगानिस्तान)

अफगानिस्तान की क्रिकेट टीम ने पिछले कुछ साल में अपने प्रदर्शन से हर किसी का दिल जीता है और इस बार वह 28 साल के गुलबदीन नाईब की कप्‍तानी में वर्ल्‍ड कप खेलेगी. 55 वनडे मैचों में 830 रन बनाने वाले इस खिलाड़ी ने अपनी तेजी से 55 खिलाड़ी ( औसत-30.40) भी आउट किए हैं. वहीं, नाईब ने अब तक तीन मैचों कप्‍तानी की जिम्‍मेदारी संभाली है. हालांकि राशिद खान, मोहम्मद शहजाद और मोहम्‍मद नबी जैसे स्‍टार खिलाड़ियों को वह कैसे संभालते हैं, यह देखने वाली बात होगी.