हनुमान बेनीवाल ने PM नरेंद्र मोदी के साथ की गुफ्तगू , प्रदेश को दिया ये संदेश!

0
66

जयपुर. राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी (RLD) के संयोजक और नागौर से सांसद हनुमान बेनीवाल (MP Hanuman Beniwal) ने रविवार को दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के मुलाकात कर गुफ्तगू की. लोकसभा के शीतकालीन सत्र से पहले दिल्ली में बुलाई गई एनडीए के नेताओं की बैठक में हनुमान बेनीवाल भी शामिल हुए. उसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री से मुलाकात की. बेनीवाल ने इस मुलाकात का एक फोटो साझा किया है, जिसमें वो प्रधानमंत्री के साथ हल्के-फुल्के अंदाज में नजर आ रहे हैं. फोटो के जरिए यह जताने का प्रयास भी किया गया है कि बेनीवाल के अब भी पीएम मोदी और भाजपा (BJP) के साथ केन्द्र में मजबूत रिश्ते हैं.

प्रदेश बीजेपी से रिश्ते में आ गई थी थोड़ी खटास
गौरतलब है कि रालोपा ने एनडीए के घटक दल के तौर पर लोकसभा का चुनाव लड़ा था लेकिन प्रदेश में हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव के बाद भाजपा और रालोपा में थोड़ी खटास नजर आई थी. दरअसल खींवसर सीट पर अपने छोटे भाई नारायण बेनीवाल की जीत का अंतर कम रहने के बाद हनुमान बेनीवाल ने सोशल मीडिया पर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. साथ ही मीडिया में भी वसुंधरा राजे के खिलाफ बयानबाजी की थी. बेनीवाल ने वसुंधरा राजे और पूर्व मंत्री युनूस खान पर कांग्रेस प्रत्याशी का समर्थन करने का आरोप लगाया था.

 

आरएलडी ने निकाय चुनाव से कर लिया था किनारा 

इस घटनाक्रम के बाद निकाय चुनाव में प्रदेश भाजपा ने राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी से अपना पल्ला झाड़ लिया था. हनुमान बेनीवाल बार-बार भाजपा के साथ गठबंधन के तौर पर ही निकाय चुनाव लड़ने के बयान देते रहे लेकिन भाजपा ने उन्हें अपने साथ लेना उचित नहीं समझा. भाजपा की बेरुखी के बाद रालोपा ने अकेले दम पर निकाय चुनाव में प्रत्याशी उतारने से मना कर दिया. इसके पीछे की वजह भी भाजपा से रिश्ते खराब नहीं करने की हनुमान बेनीवाल की सोच ही मानी जा रही थी.

बीजेपी शीर्ष नेतृत्व से मजबूत रिश्ते का देना है संदेश 
रालोपा के निकाय चुनाव में प्रत्याशी उतारने से भाजपा और रालोपा के संबंधों में और ज्यादा खटास आ सकती थी. वहीं आज प्रधानमंत्री साथ मुलाकात का फोटो साझा कर हनुमान बेनीवाल ने यह दिखाने की कोशिश की है कि प्रदेश भाजपा भले ही उनसे कन्नी काट रही हो लेकिन भाजपा में शीर्ष स्तर पर अब भी उनके मजबूत संबंध हैं. एनडीए की बैठक के दौरान बेनीवाल ने गृह मंत्री अमित शाह से भी मुलाकात की और बाड़मेर के बायतू में अपने और केन्द्रीय मंत्री कैलाश चौधरी के काफिले पर किए गए हमले की जानकारी दी.