रोहित शर्मा ने तोड़ा धोनी का रिकॉर्ड, बने टी-20 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज

0
48

नई दिल्ली: भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने एक नई उपलब्धि अपने नाम कर ली है. रोहित भारत की तरफ से सर्वाधिक टी20 अंतरराष्ट्रीय खेलने वाले क्रिकेटर बन गये जबकि शिवम दुबे इस छोटे प्रारूप में खेलने वाले 82वें भारतीय बन गये हैं. रोहित ने बांग्लादेश के खिलाफ रविवार को अरुण जेटली स्टेडियम में अपना 99वां मैच खेला और इस तरह से उन्होंने पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को पीछे छोड़ा जिन्होंने 98 टी20 अंतरराष्ट्रीय खेले हैं. इनके बाद सुरेश रैना (78) और विराट कोहली (72) का नंबर आता है.पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शोएब मलिक ने सर्वाधिक 111 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं जबकि उनके हमवतन शाहिद अफरीदी के नाम पर 99 मैच दर्ज हैं.इस बीच भारत ने मुंबई के आलराउंडर शिवम दुबे को पदार्पण का मौका दिया. मुख्य कोच रवि शास्त्री ने उन्हें भारतीय कैप सौंपी. छब्बीस वर्षीय दुबे दायें हाथ के मीडियम स्पीड के गेंदबाज हैं और बायें हाथ से बल्लेबाजी करते हैं.बांग्लादेश ने भी बायें हाथ के सलामी बल्लेबाज मोहम्मद नईम को इस प्रारूप में पदार्पण का मौका दिया. वह बांग्लादेश की तरफ से इस प्रारूप में खेलने वाले 67वें खिलाड़ी हैं.

 

सर डॉन ब्रैडमैन का भी रिकॉर्ड तोड़ा

 

हाल ही में रोहित शर्मा महान क्रिकेटर सर डॉन ब्रैडमैन के घरेलू सरजमीं पर औसत के रिकॉर्ड को तोड़ा है. सर डॉन ब्रैडमैन का ये रिकॉर्ड 71 साल पुराना था. डॉन ब्रैडमैन का टेस्ट क्रिकेट में घरेलू सरजमीं पर 50 पारियों में 98.22 का औसत था जिसे रोहित शर्मा ने 18 पारियों में 99.84 की औसत के साथ तोड़ दिया है.

 

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट में यहां 212 रन बनाने वाले रोहित का 18 पारियों में औसत 99.84 है जो टेस्ट क्रिकेट में घरेलू सरजमीं पर किसी भी खिलाड़ी का सर्वोच्च औसत (न्यूनतम 10 पारी) है. रोहित ने अब तक 18 पारियों में 1298 रन बनाए हैं.इससे पहले रिकार्ड ब्रैडमैन के नाम दर्ज था जिन्होंने घरेलू सरजमीं पर 50 पारियों में 98.22 की औसत से 4322 रन जोड़े थे. रोहित साथ ही सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग के बाद टेस्ट और एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट दोनों में दोहरे शतक जड़ने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज बन गए हैं. रोहित शर्मा ने वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक जड़े हैं.

 

2007 में शुरू हुआ था रोहित शर्मा का वनडे करियर
रोहित शर्मा का वनडे करियर 2007 में शुरू हुआ था. उस समय वो मिडिल ऑर्डर में बल्लेबाजी किया करते थे. इसके बाद 2011 में उन्हें दक्षिण अफ्रीका में ओपनिंग का जिम्मा उठाना पड़ा. लेकिन जैसे ही टीम के ‘रेग्यूलर ओपनर्स’ लौटे रोहित ओपनिंग से हट गए. फिर 2013 का साल आया. इंग्लैंड की टीम भारत के दौरे पर थी. कप्तान धोनी ने रोहित शर्मा से कहा कि वो पारी की शुरूआत का जिम्मा उठाएं. ऐसा कहा जाता है कि रोहित शर्मा ने इस बात पर फैसला करने के लिए एक रात का समय मांगा था. अगली सुबह उनका जवाब ‘हां’ में था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here