अलवर में बुधवार देर रात चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद दो पक्षों में पंच पद को लेकर विवाद

0
169

अलवर: पंचायत चुनाव (Panchayat Election) का तीसरा चरण भी हिंसा (Violence) की चपेट में आ गया. अलवर (Alwar) जिले के किशनगढ़बास थाना इलाके के नंगली पठान गांव में बुधवार देर रात चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद दो पक्षों में पंच पद को लेकर विवाद (Dispute) हो गया. उसके बाद दोनों पक्षों में हुए खूनी संघर्ष (Bloody struggle) में एक दर्जन लोग घायल हो गए. उन्हें उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है. घटना के बाद पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है. पुलिस ने इस मामले में करीब एक दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है.

नंगली पठान गांव में हुई हिंसा
नंगली पठान गांव में देर रात चुनाव परिणाम के बाद पंच के पद को लेकर जबर्दस्त विवाद हो गया और वहां दो पक्ष आमने-सामने हो गए. देखते ही देखते वहां खूनी संघर्ष होने लग गया. इसमें दोनों पक्षों के करीब 10-12 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस व प्रशासन की टीम पहुंची और घायलों को किशनगढ़बास स्थित सीएचसी में इलाज के लिए भर्ती कराया. पुलिस दोनों ही पक्षों से विवाद की जानकारी जुटा रही है. दोनों ही पक्षों के एक दर्जन से अधिक लोगों को हिरासत में भी लिया है.

पहले के दो चरणों में भी हुई थी हिंसा

उल्लेखनीय है कि पंचायत चुनाव के तीसरे चरण में बुधवार को प्रदेश की 1700 पंचायतों में चुनाव हुए थे. शाम को पांच बजे मतदान का समय समाप्त होने के बाद मतगणना शुरू हुई थी. देर रात तक पंचायतों के चुनाव परिणाम घोषित किए जा रहे थे. इससे पहले हुए पंचायत चुनाव के दो चरणों में भी प्रदेश में कई जगह हिंसा की वारदातें हुईं थी. इनमें भरतपुर में तो जबर्दस्त तनाव के हालात हो गए थे. वहां दो पक्ष आमने-सामने होने के बाद कई वाहन फूंक दिए गए थे और घरों में आगजनी की गई थी. वहीं बांसवाड़ा और डूंगरपुर जिले में भी पंचायत चुनाव हिंसा की चपेट में आ गए थे.

READ More...  कोरोना का नया रिकॉर्ड, 606 लोगों की मौत, एक दिन में 32 हजार से अधिक केस