इस अपराधी का नाम आते ही DGP बोले- बन जाओ सिंघम और मार गिराओ हथियार बंद अपराधियों को

0
38

झारखंड के डीजीपी ने अपने पुलिस जवानों को सख्त निर्देश जारी किए हैं. मीटिंग के दौरान जवानों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि जिस बदमाश के हाथ में भी हथियार दिखे उस पर ज़रा भी रहम न खाएं, सीधे गोली मार दें. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस को किसी से भी डरने की ज़रूरत नहीं है. गौरतलब रहे डीजीपी दुमका में पुलिस अफसरों संग मीटिंग कर रहे थे. झारखंड में बढ़ते अपराधों पर लगाम लगाने के लिए योजनाएं बनाई जा रहीं थी.

इस अपराधी का नाम आते ही दिया यह आदेश

दुमका में बैठक के दौरान शिकारीपाड़ा पत्थर औद्योगिक इलाके में मुन्ना राय नामक अपराधी द्वारा एक कारोबारी को गोली मारकर घायल करने का मामला भी उठा. ध्यान रहे कि दुमका में व्यवसायियों को लगातार धमकी मिल रही हैं. लगातार बढ़ते मामले से डीजीपी गंभीर हो गए और हथियार बंद अपराधियों को सीधे गोली मारने का ऐसा आदेश जारी कर दिया.

पुलिस वालों से कहा बन जाओ सिंघम

मीटिंग के दौरान डीजीपी राव ने पुलिसकर्मियों को सिंघम बनने की नसीहत देते हुए कहा किसी से डरो नहीं. पुलिस को किसी से भी डरने की जरूरत नहीं है. अपराध पर अंकुश लगाने के लिए अपराधियों को पकड़ कर जेल में भरें या फिर उनको मार गिराएं. डीजीपी एमवी राव यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा कि अपराधियों को उसी की भाषा में जवाब देंगे और कठोर तरीके से पेश आएंगे. अपराधियों ने तांडव किया तो उन्हें मार भी गिराएंगे. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें ना राजनीति और ना ही जाति धर्म से मतलब है. लोगों की सेवा करना ही पुलिस का धर्म है. जान माल की रक्षा करना ही पुलिस का काम है.

READ More...  Rajasthan: अदालतों में खत्म होगा लॉकडाउन, 29 जून से नियमित रूप से होगी सुनवाई, यह रहेगी पूरी व्यवस्था

पुलिस को राजनीति से न जोड़ने की कही बात

डीजीपी राव ने अपील करते हुए यह भी कहा कि पुलिस को राजनीति से ना जोड़ें. राजनीति से उनका कोई सरोकार नहीं है और ना ही वह राजनीति से घबराते हैं. डीजीपी राव ने कहा कि राज्य की पुलिस का काम कानून व्यवस्था को बेहतर बनाना है. अपराध पर नियंत्रण करना है. साथ ही पुलिसकर्मियों का मनोबल भी हमेशा बढ़ा रहे इसका प्रयास होना चाहिए.