अश्विन ने RCB के स्पिनरों को देखकर ली सीख, फिर ऐसे दी मात

0
14

किंग्स इलेवन पंजाब के स्पिनर मुरुगन अश्विन ने कहा कि सही लेंथ पर गेंदबाजी करने से वह इंडियन प्रीमियर लीग मैच में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बल्लेबाजों पर अंकुश लगाने में सफल रहे और इसकी सीख उन्हें पिछले मैच में अपनी इस प्रतिद्वंद्वी टीम के गेंदबाजों को देखकर ही मिली.

अश्विन ने खतरनाक आरोन फिंच और वाशिंगटन सुंदर के विकेट लिए. इसके अलावा उन्होंने चार ओवर में केवल 23 रन दिए. किंग्स इलेवन ने गुरुवार को खेला गया यह मैच आठ विकेट से जीता. इस 30 वर्षीय गेंदबाज ने आरसीबी की कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 82 रन से जीत के दौरान युजवेंद्र चहल और सुदंर की गेंदबाजी का विश्लेषण किया जिससे उन्हें शारजाह के अपेक्षाकृत छोटे मैदान पर सही लेंथ हासिल करने में मदद मिली.

अश्विन ने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ”गेंद बल्ले पर थोड़ा रुककर आ रही थी. यह सहीं लेंथ पर गेंद करने से जुड़ा था. आरसीबी ने जो पिछला मैच खेला था मैंने उसे देखा था. मैंने इस पर गौर किया था उनके स्पिनर किस तरह से गेंदबाजी कर रहे हैं. मैंने उससे सीख ली.”

उन्होंने कहा, ”मैं सही लेंथ पर गेंदबाजी करना चाहता था और जितना संभव हो दोनों तरफ टर्न करना चाहता था.” चहल ने केकेआर के खिलाफ मैच में चार ओवर में 12 जबकि सुंदर ने 20 रन दिए थे. अश्विन ने कहा कि छोटे मैदान पर गेंदबाजी करना चुनौतीपूर्ण है.

उन्होंने कहा, ”यह चुनौतीपूर्ण है और आपको इसे स्वीकार करना होगा. आपको इससे तालमेल बिठाना होगा और हमने अभ्यास में ऐसा ही किया.” आरसीबी के ऑलराउंडर क्रिस मौरिस ने भी अपने कप्तान विराट कोहली की तरह कहा कि दाएं और बायें हाथ का संयोजन बनाकर लेग स्पिनरों का सामना करने के उद्देश्य से ही एबी डिविलियर्स को बल्लेबाजी क्रम में नीचे भेजा गया.

READ More...  कृषि से आय दोगुनी नहीं बल्कि कई गुणा होगी, जयपुर के किसान से जानिए तरकीब

उन्होंने कहा, ”दाएं और बाएं हाथ के बल्लेबाज की क्रीज पर मौजूदगी से लगातार सही लाइन से गेंद करना मुश्किल होता है. आखिर में विकेट धीमा पड़ता जा रहा था. हमें लगा कि हमने पर्याप्त रन बनाए हैं, लेकिन हमने कुछ आसान चौके दिए.”