Ayodhya Verdict: अयोध्या मामले में फैसला आज, CM गहलोत ने की शांति बनाए रखने की अपील

0
72

जयपुर. राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि विवाद (Ram Janmabhoomi Babri Masjid Case) मामले में शनिवार को आने वाले सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के फैसले को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शांति और सद्भाव (appeals for peace and harmony) बनाए रखने की अपील की है. अयोध्‍या मामले (Ayodhya Case) पर सुबह 10.30 बजे सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) फैसला सुनाएगी. इस फैसले के मद्देनजर राजस्थान सरकार ने पूरे प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी है. मुख्यमंत्री गहलोत ने अपील की है कि शांति और सद्भाव बनाए रखें. हमारे सामाजिक सौहार्द पर कोई असर न पड़े. सभी धर्मों, जाति एवं समुदायों में आपसी सद्भाव एवं भाईचारे की हमारी महान परम्परा रही है.

सीएम ने ट्वीटर पर लिखा है कि ‘अयोध्या पर माननीय सर्वोच्च न्यायालय का फैसला (Ayodhya verdict) आ रहा है. प्रदेश में अमन-चैन और सद्भाव बनाए रखने के लिए हमारी सरकार संकल्पित है. जिला कलक्टर, एसपी को सामूहिक जिम्मेदारी दी है कि वे बेहतर समन्वय के साथ काम करते हुए ऐसी किसी भी घटना के प्रति सतर्क रहें जिससे माहौल बिगड़ने की आशंका हो’.

मेरी सभी से अपील है कि शांति और सद्भाव बनाए रखें. हमारे सामाजिक सौहार्द पर कोई असर न पड़े. सभी धर्मों, जाति एवं समुदायों में आपसी सद्भाव एवं भाईचारे की हमारी महान परम्परा रही है.

— अशोक गहलोत, मुख्यमंत्री, राजस्थान

राम जन्म भूमि-बाबरी मस्जिद विवाद मामले (Ram Janmbhoomi Babri Masjid Dispute Case) में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के ऐतिहासिक फैसले से पहले सीजेआई रंजन गोगोई की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. बता दें कि 17 नवंबर को मुख्‍य न्‍यायाधीश रंजन गोगोई (CJI Ranjan Gogoi) सेवानिवृत्‍त हो रहे हैं. सीजेआई रंजन गोगोई ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (DGP) ओपी सिंह और मुख्‍य सचिव (Chief Secretary) आरके तिवारी से सुरक्षा व्यवस्था (Security Arrangement) को लेकर बैठक की थी. उत्तर प्रदेश शासन के ये दोनों वरिष्ठ अधिकारी सुप्रीम कोर्ट के बुलावे पर शुक्रवार दोपहर दिल्ली (Delhi) पहुंचे थे. उधर, फैसले को देखते हुए उत्तर प्रदेश के सभी स्कूल-कॉलेजों सहित सभी शिक्षण संस्थान को 9 से सोमवार 11 नवंबर तक बंद रखने का आदेश दिया गया है