पंचायत चुनाव: तीसरे चरण में मतदान का डाटा डिलीट, फिर से होगा सरपंच चुनाव

0
632

बूंदी : राजस्थान में पंचायतीराज आम चुनाव के तीसरे चरण में बूंदी (Bundi) जिले की तालेड़ा पंचायत समिति क्षेत्र की 63 ग्राम पंचायतों में बुधवार को मतदान हुआ. इन दौरान क्षेत्र की देलून्दा (Delunda) ग्राम पंचायत में कंट्रोल यूनिट में खराबी आने से नतीजों की घोषणा नहीं हो सकी. मशीन (Control unit of EVM) का डाटा रिकवर करने के लिए हैदराबाद से इंजीनियर पहुंचे लेकिन डाटा डिलीट होने के चलते अब यहां सरपंच चुनाव फिर से कराए जाएंगे. बता दें कि देलून्दा ग्राम पंचायत में सरपंच पद के लिए तीन महिलाओं के बीच मुकाबला था. इनमें कमलेश मीणा, पूजा मीणा और रामकन्या मीणा शामिल है. अब मतदान फिर से कराए जाने की घोषणा के बाद इन तीनों प्रत्याशियों की धड़कने बढ़ा दी हैं.

रात 9 बजे हैदराबाद से पहुंचे इंजीनियर
ईसीआईएल कंपनी के इंजिनियर डाटा रिकवरी के लिए रात नौ बजे देलून्दा पहुंचे. कंट्रोल यूनिट की जांच के बाद सीयू से डाटा डिलिट हो जाने की बात सामने आई. मतदान के बाद नतीजों की घोषणा के इंतजार में तीनो प्रत्याशी और उनके समर्थक 29 जनवरी पंचायत में डेरा डाले बैठे थे. अब चुनाव फिर से होने की खबर के बाद से देलून्दा और विनायका गांव के लोगों के चेहरों पर मायूसी छा गई.

पोलिंग पार्टी पर मिलीभगत का आरोप

सरपंच प्रत्याशी रामकन्या बाई मीणा ने जिला निर्वाचन विभाग पर मिलीभगत कर कंट्रोल यूनिट को खराब कर दिए जाने के आरोप लगाए हैं. उन्होंने गड़बड़ी के मामले की निष्पक्ष जांच किए जाने की मांग की है. वहीं दूसरी तरफ कार्यवाहक जिला निर्वाचन अधिकारी राजेश जोशी ने कंट्रोल यूनिट का डाटा डिलीट होने के संबध में राज्य निर्वाचन आयोग को रिपोर्ट भेजे जाने की बात कही है. जोशी के अनुसार राज्य निर्वाचन विभाग द्वारा घोषित तिथि के अनुसार देलून्दा ग्राम पंचायत में फिर से सरपंच का चुनाव करवाए जाएंगे.

READ More...  नगर परिषद मामले के निस्तारण की मांग, समर्थकों के साथ मुख्यमंत्री से मिली सभापति की पत्नी डॉ सौम्या गुर्जर