IAS और IPS अफसर की दोस्ती प्यार में बदली, चर्चा में है मंदिर हुई शादी

0
126

जयपुर. राजस्थान की राजधानी जयपुर (Jaipur) में रविवार को एक अनूठी शादी देखने को मिली. एक युवा आईएएस (IAS) ने अपनी साथी आईपीएस (IPS) अधिकारी से सादगी से मंदिर में शादी की. दोनों की महाराष्ट्र (Maharashtra) में पोस्टिंग है और इस शादी में गिने-चुने मेहमान और परिवारजन ही शामिल हुए. इसी के साथ आंचल और जितेन्द्र इक-दूजे के हो गए. जितेन्द्र राजस्थान (Rajasthan) के झुंझुनूं (Jhunjhunu) जिले के रहने वाले हैं, तो आंचल पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शामली की निवासी हैं.
जितेन्द्र आईएएस हैं तो आंचल आईपीएस अधिकारी. दोनों की महाराष्ट्र में पोस्टिंग है. जानकारी के अनुसार, ट्रेनिंग के दौरान दोनों की दोस्ती हुई और बाद में यही दोस्ती प्यार में बदल गई. रविवार को दोनों एक-दूजे के हो गए.जितेन्द्र को पहले झारखंड कैडर मिला था और आंचल को महाराष्ट्र, लेकिन जब दोनों ने शादी का फैसला किया, तो जितेन्द्र का तबादला भी महाराष्ट्र कैडर हो गया.

सनातन परंपराओं से की शादी

दोनों ने सनातन परंपराओं के मुताबिक विवाह बंधन में बंधने का फैसला किया. इसलिए न कोई तड़क-भड़क और न ही कोई दिखावा किया. विवाह समारोह सादगी से संपन्‍न हुआ. वैदिक रीति-रिवाज से ऐसा विवाह जिसमें प्राचीन भारत के विवाह संस्कारों की झलक दिखाई दी.शादी समारोह में गिनती के बाराती थे. वर और वधू पक्ष की ओर से चुनिंदा मेहमानों को ही बुलाया गया था. परिवारजनों से ज्यादा दोनों के प्रशासनिक अधिकारी शादी में ज्यादा पहुंचे थे. शादी में किसी भी तरह का दहेज दूल्हे की ओर से नहीं लिया गया. मकसद खर्चीली शादी के नाम पर पैसे की बर्बादी को रोकना भी था.

READ More...  शिवसेना ने दिए एनसीपी-कांग्रेस के साथ सरकार बनाने के संकेत, कहा- महाराष्ट्र दिल्ली का गुलाम नहीं

लगे भारत माता जय के नारे

इस युवा जोड़े ने सादगी से विवाह जैसे संस्कार की रस्में ही नहीं निभाईं, बल्कि इस दौरान अमर बलिदानियों तक को याद किया गया. भारत माता के जयकारे लगे और साथ में जन्म जन्म तक साथ साथ रहने की सौंगध खाई गई. उम्मीद है आंचल और जितेन्द्र की शादी कई और युवाओं को इस तरह विवाह करने के लिए प्रेरित करेगी.