कोरोना के इस संकट में हमें दुनिया चीन के विकल्प के तौर पर देख रही है – नितिन गडकरी

0
99

नई दिल्ली : केंद्र सरकार  इस समय चीन से इंपोर्ट घटाने और घरेलू इंडस्ट्री के लिए मौके बढ़ाने की कोशिश कर रही है. CNBC आवाज़ के साथ खास बातचीत में एमएसएमई और सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि कोरोना के बाद बहुत से देश भारत को चीन के विकल्प के तौर पर देख रहे हैं. चीन के बाद भारत एक सशक्त विकल्प है. सभी एंबेसडर से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए इस मुद्दे पर बातचीत होगी. हमारी पूरी कोशिश होगी कि इंपोर्ट को कम किया जाए और आत्मनिर्भर बना जाए.

उन्होंने आगे कहा कि दो तीन हफ्ते के लिए हमने जो टोल बंद कर दिया था उसका कंपनसेशन तो हमें देना ही पड़ेगा और हम देंगे.

सरकार ने 30 Km प्रतिदिन सड़क बनाने का लक्ष्य पूरा कर लिया है. 40 किमी मीटर प्रतिदिन सड़क बनाने का टारगेट हम पूरा नहीं कर पाए हैं. ये हाई वे, एयरपोर्ट में बड़े पैमाने के निवेश का सही समय है. इस साल टोल से 40 हजार करोड़ रु की आमदनी होगी.

ऑटो स्क्रैपेज पॉलिसी पर बात करते हुए नितिन गडकरी ने कहा कि हमने स्क्रैपेज पॉलिसी को पूरा कर लिया है. कुछ डिपार्टमेंट से मंजूरी भी मिल गई है. अभी ये कोरोना की वजह से रुक गई है. मैं आज कल में ही मैं सेक्रेटरी से बात करूंगा. जल्दी ही पॉलिसी का ऐलान किया जाएगा.
राज्यों का टैक्स बढ़ाना क्यों जरूरी है, इस सवाल के जवाब देते हुए नितिन गड़करी ने कहा कि पेट्रोल डीजल, शराब पर टैक्स बढ़ाना सही है. राज्य सरकार को भी पैसे की जरूरत है. पेट्रोल डीजल पर टैक्स लगाना राज्य सरकार का अधिकार है.

READ More...  DPK NEWS | देखिये राजस्थान व देश विदेश की तमाम बड़ी खबरे | 05.11.2019