अयोध्या: इस रणनीति पर हो रहा काम, कोरोना को रोकने के लिए बढ़ाए टेस्ट

0
17
China active in disposal of new corona virus infected pneumonia.

जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया कि हम लोग आक्रामक तरीके से कोविड-19 को राकने की कोशिश कर रहे हैं. पहले टेस्ट कम हो रहे थे लेकिन अब हमने टेस्ट की दर बढ़ा दी है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को टेस्ट कर आइसोलेट किया जा सके.

अयोध्या में पांच अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि पूजन कार्यक्रम के मद्देनजर प्रसाशन हर स्तर पर सक्रिय है. कोरोना वायरस महामारी को लेकर भी अयोध्या प्रशासन सख्ती दिखा रहा है.

अयोध्या में कोरोना को रोकने को लेकर सभी प्रयास किए जा रहे हैं. जिलाधिकारी अनुज कुमार झा ने बताया, ‘अयोध्या में कोविड-19 पूरी तरीके से कंट्रोल में है. हमारे पास एक हजार बेड हैं. इसमें से सिर्फ 300 बेड ही भरे हैं. हम पूरी तरह से तैयार हैं.’ उन्होंने कहा कि पिछले 10 दिनों में हमने कोरोना टेस्ट की दर काफी बढ़ा दिए हैं. प्रतिदिन 500 टेस्ट होते थे. अब दो हजार से अधिक टेस्ट रोज हो रहे हैं.

अनुज कुमार झा ने बताया, हम लोग आक्रामक तरीके से कोविड-19 को राकने की कोशिश कर रहे हैं. पहले टेस्ट कम हो रहे थे लेकिन अब हमने टेस्ट की दर बढ़ा दी है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को टेस्ट कर आइसोलेट किया जा सके. उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश यह है कि जो लोग राम जन्मभूमि परिसर में काम कर रहे हैं सबका टेस्ट किया जाए. हमने सबके टेस्ट किए हैं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें…

जिलाधिकारी ने बताया कि जो लोग भी वीआईपी की ड्यूटी में तैनात होंगे या उनके आसपास होंगे. उनके टेस्ट किए गए हैं. पुजारी, उनके सहायक पुजारी के साथ-साथ जोन के कर्मचारियों के टेस्ट भी किए गए हैं ताकि संक्रमण की किसी तरह की कोई गुंजाइश नहीं रहे.

READ More...  UP: औरेया सड़क हादसे में 24 मजदूरों की मौत, CM योगी ने दिए जांच के आदेश

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर?

जिलाधिकारी ने कहा कि उत्तर प्रदेश शासन और अयोध्या प्रशासन भी प्रोटोकॉल और गाइडलाइंस का सख्ती से पालन कर रहा है. हमारे पास कुछ कंडीशन के साथ परमिशन देने की गुंजाइश है और हम लोग जो उचित कंडीशन होगा उसी के साथ इस कार्यक्रम की इजाजत देंगे. करीब 200 लोग इस कार्यक्रम में शिरकत करेंगे. ट्रस्ट यह तय कर रहा है कि कौन-कौन लोग आएंगे. लेकिन ज्यादा बड़ी संख्या नहीं है. हमारी उम्मीद है कि प्रधानमंत्री 1 घंटे कार्यक्रम में रहेंगे.