Coronavirus: लॉक डाउन या हेल्थ इमरजेंसी? पीएम के संबोधन पर लग रही ये अटकलें

0
130

देश में कोरोना वायरस  से संक्रमित लोगों की संख्‍या 172 पर पहुंच गई. इस संक्रमण से अब तक 3 लोगों की मौत हो चुकी है. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज रात 8 बजे देश को संबोधित करेंगे. उनके इस संबोधन से ये अटकलें लगाई जा रही हैं कि ये हेल्थ इमरजेंसी-लॉकडाउन या कुछ और है. क्योंकि इस तरह का संबोधन उन्होंने नोटबंदी के दौरान भी किया था. गौरतलब है कि वह देशवासियों से कोविड 19 से जुड़े मामलों और उससे निपटने के संबंध में बात करेंगे.

दिल्ली में चलाए जा रहे अभियान
बुधवार को पीएम मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण की गंभीरता को देखते हुए उच्‍चस्‍तरीय मीटिंग भी की. इस दौरान कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने के प्रयासों की समीक्षा की गई. इस बीच नोएडा में धारा 144 लागू कर दी गई है. गौरतलब है कि राजधानी दिल्ली में कोरोना से बचाव के लिए जरूरी कदम उठाए गए हैं. दिल्ली में इस बीमारी से बचाव के लिए जागरूकता अभियान के साथ हॉस्पिटल में आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्था भी की गई है.

31 मार्च तक स्कूल, कॉलेज, स्पा, जिम सभी बंद

कोरोना वायरस के असर को देखते हुए दिल्ली के नेशनल ज्यूलॉजिकल पार्क को भी 31 मार्च तक बंद किए जाने की घोषणा कर दी गई है. वहीं, CBSE ने बोर्ड परीक्षाओं के लिए दिशा-निर्देश जारी किया है. इसके अनुसार, प्रत्येक केंद्र अधीक्षक को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उम्मीदवार एक दूसरे से एक मीटर की दूरी पर बैठे हों और खांसी/छींकने वाले उम्मीदवारों को मास्क उपलब्ध कराया जाए.

वहीं, दिल्ली सरकार ने सार्वजनिक कार्यक्रमों में 50 से ज्यादा लोगों की मौजूदगी की अनुमति नहीं देने की बात कही है. उधर, दिल्ली मेट्रो में लाखों लोगों हर दिन यात्रा करते हैं. जिसको देखते हुए मेट्रो स्टेशन और ट्रेन के कोचों को सैनिटाइज किय़ा जा रहा है.

READ More...  रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद भी जिंदगी की जंग लड़ रहे इटालियन पुरुष और 85 साल के बुजुर्ग, दूसरी बीमारियों से हैं पीड़ित

ऐसे में पीएम मोदी लॉकडाउन का ऐलान कर सकते हैं साथ ही सावधान रहने की अपील भी कर सकते हैं. लोग अटकले लगा रहे है कि क्या महामारी को देखते हुए नेशनल इमरजेंसी या हेल्थ इमरजेंसी जैसी स्थिति का भी उपयोग किया जा सकता है.