कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में पीएम नरेंद्र मोदी से जुड़े गांगुली-युवराज समेत 40 खिलाड़ी

0
301

नई दिल्ली  : कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जंग में पूरी दुनिया एकजुट है और इस महामारी पर काबू करने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है. इसी कड़ी के तहत भारत में भी 21 दिन के लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा की गई थी जो 14 अप्रैल तक प्रभावी है. अब शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने देशवासियों से अपील की है कि रविवार 5 अप्रैल को रात नौ बजे नौ मिनट के लिए लोग टॉर्च, दीये और मोमबत्ती जलाकर इस जंग में एकसाथ लड़ने का संदेश दें. कोरोना वायरस के खिलाफ इस लड़ाई में सभी खेलों के खिलाड़ी भी आगे आ रहे हैं. पीएम मोदी ने शुक्रवार को 40 खिलाड़ियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये बात भी की.

12 खिलाड़ियों को अपनी बात रखने के लिए मिले तीन मिनट
इस वीडियो कांफ्रेंस में पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने खिलाड़ियों को लॉकडाउन (Lockdown) बनाए रखने का संदेश लोगों तक पहुंचाने के लिए कहा. ​पीएम मोदी के साथ इस वीडियो कांफ्रेंस में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में कई प्रमुख क्रिकेटर शामिल हैं. इनमें सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और विराट कोहली के अलावा विश्व कप विजेता पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी, रोहित शर्मा, पूर्व तेज गेंदबाज जहीर खान, युवराज सिंह और केएल राहुल का नाम भी है. खेल मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि इनमें से 12 खिलाड़ियों को अपनी बात रखने के लिये तीन मिनट दिए गए. हालांकि उन्होंने इन 12 खिलाड़ियों के नाम का खुलासा नहीं किया.

अधिक से अधिक लोगों में जागरूकता फैलाना है मकसद

READ More...  शहीद हेड कांस्टेबल रतनलाल की राजकीय सम्मान से हुई अंत्येष्टि

क्रिकेटरों के अलावा ओलिंपिक रजत पदक विजेता पीवी सिंधू, भाला फेंक के एथलीट नीरज चोपड़ा, दिग्गज शतरंज खिलाड़ी विश्वनाथन आनंद, धाविका हिमा दास, मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम और अमित पंघाल, पहलवान विनेश फोगाट और युवा निशानेबाज मनु भाकर भी उन खिलाड़ियों में शामिल हैं जिन्होंने वीडियो कांफ्रेंस में हिस्सा लिया. इस बातचीत का मकसद अधिक से अधिक लोगों में जागरूकता फैलाना है.

कोरोना वायरस के चलते दुनियाभर में खेल गतिविधियां ठप हैं. यहां तक टोक्यो ओलिंपिक को भी एक साल के लिए स्थगित किया जा चुका है, वहीं इंडियन प्रीमियर लीग के 13वें सीजन को भी फिलहाल 15 अप्रैल तक के लिए टाला दिया गया है. बीसीसीआई ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में 51 करोड़ रुपये की मदद की है.