Corona Virus: चीन से भारतीयों को निकालने का सिलसिला जारी, स्वदेश लौट 647 लोग

0
217
  • चीन से लौटे और 323 भारतीय, मालदीव के 7 नागरिक भी
  • शनिवार को आई पहली फ्लाइट में थे 324 भारतीय

चीन के लिए अभिशाप बन चुकी कोरोना की महामारी के बीच भारत सरकार वहां फंसे अपने नागरिकों को वापस ला रही है. शनिवार को एअर इंडिया की स्पेशल फ्लाइट चीन से 324 भारतीयों को लेकर नई दिल्ली पहुंची थी. रविवार की सुबह भी एअर इंडिया का एक और विमान भारतीयों को लेकर नई दिल्ली पहुंचा.

चीन के वुहान शहर से उड़ान भरने वाले एअर इंडिया के इस विमान से 323 भारतीय स्वदेश लौटे हैं. इनके साथ ही मालदीव के 7 नागरिकों को भी दिल्ली लाया गया है. इस विमान ने चीन के वुहान शहर से तड़के 3.10 बजे नई दिल्ली के लिए उड़ान भरी थी.चीन में भारत के राजदूत विक्रम मिस्री ने इस संबंध में बताया कि इस विमान में भारत के 323 और मालदीव के 7 नागरिक सवार थे. मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और विदेश मंत्री एस जयशंकर के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि वुहान से लौट रहे 7 लोगों को अभी नई दिल्ली में ही निगरानी में रखा जाएगा.

इस विमान में क्रू मेंबर्स के साथ ही राम मनोहर लोहिया अस्पताल के 5 डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ भी था. इनके पास जरूरी दवाएं और मास्क समेत अन्य आवश्यक चीजें भी थीं. चीन से लौटे इस विमान में सवार 323 भारतीयों के साथ ही अब तक 647 नागरिक नई दिल्ली वापस लाए जा चुके हैं.

निगरानी में रखे जाएंगे सभी

चीन से लाए गए सभी भारतीयों और मालदीव के लोगों को दिल्ली के छावला और हरियाणा के मानेसर कैंप में रखा जाएगा. इन सभी को विशेष निगरानी में रखा जाएगा और दो सप्ताह तक इन्हें किसी से मिलने नहीं दिया जाएगा. बता दें कि भारत में भी अब तक कोरोना के दो केस की पुष्टि हो चुकी है. दोनों ही मामले केरल के हैं.

READ More...  भारत में कोरोना वायरस के दो नए मामले आए सामने, एक दिल्ली में, दूसरा मरीज तेलंगाना में भर्ती

चपेट में दुनिया के 18 देश

चीन से शुरू हुए कोरोना वायरस की चपेट में दुनिया के 18 देश आ चुके हैं. रविवार को ही कोरोना के कारण चीन से बाहर मौत का पहला मामला भी सामने आया. हेल्थ इमरजेंसी की घोषणा कर चुके विश्व स्वास्थ्य संगठन ने फिलीपींस में एक की मौत की पुष्टि की है