दिल्ली में वायरस का संक्रमण रोकने के लिए बसों और मेट्रो को डिसइन्फेक्ट करने के आदेश

0
236

नई दिल्ली: देश में कोरोनावायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या बढ़कर 43 हो गई है। केरल में इटली से लौटे 3 साल के बच्चे में सोमवार को कोरोनावायरस की पुष्टि हुई। वह 7 मार्च को माता-पिता के साथ कोच्चि एयरपोर्ट पहुंचा था। थर्मल स्क्रीनिंग के दौरान कोरोनावायरस के लक्षण नजर आने पर उन्हें मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया। इसके अलावा जम्मू-कश्मीर में भी संक्रमण का पहला केस मिला। यहां संक्रमित 63 साल की महिला ईरान से लौटी थी। वायरस के लक्षण दिखने पर शनिवार को यहां दो लोग आइसोलेशन में रखे गए थे। इनमें से दूसरे की रिपोर्ट आना बाकी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बांग्लादेश में कोरोनावायरस के 3 मरीज मिलने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना ढाका दौरा रद्द कर दिया है। मोदी को 17 मार्च को बांग्लादेश के पूर्व राष्ट्रपिता शेख मुजीबुर्रहमान के जन्म शताब्दी समारोह में मुख्य वक्ता के तौर पर बुलाया गया था। लेकिन वायरस के खतरे को देखते हुए बांग्लादेश सरकार ने कार्यक्रम को छोटे स्तर पर करने का फैसला लिया है।

संक्रमण रोकने के लिए राज्य सरकारों ने सख्ती शुरू की

इधर, संक्रमण रोकने के लिए सरकारों ने भी सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में चलने वाली बसों और मेट्रो को नियमित तौर पर डिसइन्फेक्ट करने के आदेश दिए हैं। केरल सरकार ने विदेश से आने वाले हर यात्री को ट्रेवल हिस्ट्री बताने को कहा है। ऐसा न करने पर उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा। वहीं, तमिलनाडु सरकार ने संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर ऐसे मरीजों की निगरानी करने की बात कही है। इससे पहले, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने संक्रमण के शिकार हुए लोगों के संपर्क में आए 337 लोगों को आइसोलेशन में भेजने की जानकारी दी थी। वहीं, महाराष्ट्र सरकार ने एयरपोर्ट पर की जाने वाली जांच को और पुख्ता बनाने की बात कही।

READ More...  भारत बायोटेक ने तैयार की कोरोना वायरस की वैक्सीन, ट्रायल के लिए भेजा अमेरिका

बंगाल और लद्दाख में एक-एक संदिग्ध की मौत

इस बीच, रविवार रात को बंगाल के अस्पताल में आइसोलेशन वार्ड में रखे गए एक व्यक्ति की मौत हो गई। इस व्यक्ति में कोरोनावाइरस संक्रमण के लक्षण दिखाई देने पर उसे आइसोलेशन में रखा गया था। हालांकि अब तक इसकी टेस्ट रिपोर्ट नहीं मिली है। लद्दाख में भी ईरान की यात्रा करने वाले बुजुर्ग की कोरोनावायरस जैसे लक्षणों से मौत होने की जानकारी मिली है। इसकी टेस्ट रिपोर्ट भी अब तक नहीं मिल सकी है।

संक्रमण की जांच के लिए देश में 52 लैब

कोरोनावायरस के संक्रमण की जांच के लिए देशभर में 52 लैब बनाई गई हैं। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) ने स्वास्थ्य और शोध विभाग के साथ मिलकर ये लैब बनाई हैं। आईसीएमआर के मुताबिक, दिल्ली के लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज समेत देश के अलग-अलग स्थानों पर वायरस रिसर्च एंड डॉयग्नॉस्टिक लैब (वीआरडी) नमूने एकत्रित कर रही हैं। 6 मार्च तक 3,404 लोगों के 4,058 सैंपल की जांच की जा चुकी है। इनमें चीन के वुहान शहर से लाए गए 654 लोगों के 1,308 सैंपल भी शामिल हैं।

विदेशी यात्रियों की 30 एयरपोर्ट्स पर स्क्रीनिंग

देश के 30 एयरपोर्ट्स पर विदेश से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की जा रही है। दक्षिण कोरिया और इटली से आने वालों को देश में प्रवेश करने से पहले कोरोनावायरस फ्री सर्टिफिकेट दिखाना होगा। कोरोनावायरस के कारण इस महीने होने वाला भारत-ईयू शिखर सम्मेलन भी स्थगित कर दिया गया है। इससे पहले सरकार ने इटली, ईरान, दक्षिण कोरिया और जापान से आने वाले लोगों के वीजा और ई-वीजा रद्द कर दिए थे। उधर, केंद्र सरकार के दफ्तरों में 31 मार्च तक बायोमीट्रिक अटेंडेंस पर रोक लगा दी गई है। बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए सभी टेलीकॉम कंपनियां शनिवार से ही मोबाइल रिंगटोन में कोरोनावायरस पर अवेयरनेस मैसेज चला रही हैं।