स्वास्थ्य मंत्री ने संसद में कहा- सभी 29 केस मंत्री समूह की निगरानी में, विदेशों से आने वाले सभी यात्रियों की 21 एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग जारी

0
124

नई दिल्ली: कोरोनावायरस को लेकर सरकार चिंतित है। इस पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने गुरुवार को संसद में बयान दिया। उन्होंने कहा कि सभी 29 मामलों की निगरानी की जा रही है। इसके लिए मंत्रियों का समूह बनाया गया है। विदेशों से आने वाले सभी यात्रियों की 21 एयरपोर्ट्स पर स्क्रीनिंग की जा रही है। वहीं, संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में विपक्ष दिल्ली हिंसा पर चर्चा के लिए अड़ा है। गुरुवार को लगातार चौथे दिन दोनों सदनों- लोकसभा और राज्यसभा में हंगामा और नारेबाजी के आसार हैं।

ये बिल पेश होंगे…
1. 
संसदीय कार्यमंत्री प्रह्लाद जोशी माइंस एंड माइनेरल लॉ (संशोधन) बिल पेश करेंगे।
2. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इन्सॉल्वेंसी एंड बैंकरप्टी कोड (संशोधन) बिल पेश करेंगी।
3. केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी एयरक्राफ्ट (संशोधन) बिल पेश करेंगे।

जब तक दिल्ली की हिंसा पर चर्चा नहीं होती, सदन नहीं चलने देंगे: विपक्ष
इससे पहले बुधवार को दोनों सदनों में विपक्ष के शोर-शराबे की वजह से काेई कार्यवाही नहीं हाे सकी। लाेकसभा में कांग्रेस, तृणमूल, सपा, बसपा, द्रमुक, माकपा समेत अन्य दलाें ने दिल्ली हिंसा पर चर्चा की मांग की। इस दौरान विपक्षी सांसदों ने माेदी सरकार शर्म कराे, प्रधानमंत्री जवाब दाे के नारे भी लगाए। कांग्रेस सांसद वेल में आकर गृह मंत्री अमित शाह के इस्तीफे की मांग करने लगे। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चाैधरी ने कहा कि जब तक सरकार हिंसा पर चर्चा नहीं कराएगी, तब तक सदन की कार्यवाही नहीं चलने देंगे। इस पर संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जाेशी ने कहा कि हाेली के बाद 11 मार्च काे लाेकसभा और 12 मार्च काे राज्यसभा में चर्चा कराई जा सकती है। हालांकि विपक्षी सांसद इससे संतुष्ट नहीं हुए। ऐसा ही दृश्य राज्यसभा में भी देखने काे मिला था।

READ More...  ई-सिगरेट पर रोक से जुड़ा बिल लोकसभा में पास, नियम तोड़ने पर जेल के साथ जुर्माना

सांसदाें की हरकत से नाराज लाेकसभा अध्यक्ष सदन में ही नहीं आए
लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला बुधवार काे सदन में नहीं आए। वे पूरे दिन अपने चैंबर में ही रहे। बताया गया कि वे सांसदों के व्यवहार की वजह से दुखी हैं। उनकी जगह पीठासीन सभापति किरीट सोलंकी ने सदन की कार्यवाही का संचालन किया। ओम बिड़ला मंगलवार शाम सदन में महिला सांसद के साथ धक्का-मुक्की की घटना से दुखी हैं।