Coronavirus: चीन में फंसे जालोर के 50 MBBS स्टूडेंट्स, परिजनों ने लगाई मदद की गुहार

0
210

जालोर: कोरोना वायरस फैलने के चलते चीन में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे जालोर जिले के भीनमाल और सांचौर क्षैत्र के करीब 50 छात्र हॉस्टल में कैद हो गए हैं. कई छात्र तो दिसंबर में परीक्षा होने के बाद गांव लौट आए थे जबकि 50 से ज्यादा छात्र अभी भी वहीं फंसे हुए हैं.

वहां बाजार बंद होने से उन्हें सब्जी और अन्य सामान तक नहीं मिल रहा है. इन छात्रों ने फोन पर जी मीडिया को बताया कि कोरोना वायरस फैलने के बाद चीन में पिछले 20 दिन से कर्फ्यू जैसे हालात हैं.

हॉस्टल में कैद एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहे छात्रों ने जी मीडिया को बताया कि चीन में पूरे देश में अलर्ट जारी होने के बाद घरों से बाहर नहीं निकलने की चेतावनी तक दी गई है. ऐसे में लोग जरूरत होने पर ही बाहर निकल रहे हैं. ऐसे में वहां पूरे दिन सड़कों पर सन्नाटा पसरा रहता है. छात्रों ने बताया कि पिछले 25 दिनों से चीन में मेडिकल कॉलेज में भी अवकाश घोषित है, जिससे वे हॉस्टलों में ही कैद होकर रह गए हैं. करीब 50 से अधिक विद्यार्थी वर्तमान में चीन के विभिन्न शहरों से पढ़ाई कर रहे हैं. चीन के जिमूसी शहर के हॉस्टल में पिछले 25 दिनों से मास्क लगाकर छात्र एक बंद कमरे में जिदंगी गुजार रहे हैं.

परिवार को चिंता सता रही है
सांचौर क्षेत्र के एक परिवार के सदस्यों ने जी मीडिया को बताया कि चीन के हुबेई शहर में हमारा बेटा एमबीबीएस कर रहा है. कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है, इसलिए वह हॉस्टल में ही हैं. अभी बात हुई है, वो ठीक है, लेकिन यह बीमारी फैलने से चिंता सता रही है.

READ More...  इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2020 का पूरा शेड्यूल जारी , आईपीएल के 13वें सीजन का आगाज 19 सितंबर को होगा

यूनिवर्सिटी के हॉस्टल में रह रहे सभी छात्रों ने एक साथ शहर में जाकर एडवांस में करीब एक महीने का सामान लेकर आ गए. चीन के हेइलोंगजियांग प्रांत के जिमूसी में रहने वाले छात्र सुनिल विश्रोई ने बताया कि वर्तमान में शहर के यह हालात हैं कि कोई दुकान तक खुली नहीं रहती.

कोरोना के ये हैं लक्षण
कोरोना वायरस के संक्रमण से मरीज को जुकाम से लेकर सांस लेने में तकलीफ जैसी समस्या हो सकती है. बुखार, खांसी, सांस लेने में तकलीफ इसके खास लक्षण हैं. यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है. इसलिए इसे लेकर बहुत सावधानी बरती जा रही है.

और ये हैं बचाव के उपाय
कोरोना वायरस से बचने के लिए हाथों को साबुन से धोना चाहिए. अल्कोहल आधारित हैंड रब का इस्तेमाल भी किया जा सकता है. खांसते और छींकते समय नाक और मुंह रूमाल या टिश्यू पेपर से ढंककर रखें. जिन व्‍यक्तियों में कोल्‍ड और फ्लू के लक्षण हो, उनसे दूरी बनाएं. अंडे और मांस के सेवन से बचना चाहिए. जंगली जानवरों के संपर्क में आने से बचें.