COVID-19: अशोक गहलोत के काम के मुरीद हुए PM नरेंद्र मोदी, जमकर की तारीफ

0
312

जयपुर. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने कोविड-19 (COVID-19) संकट के दौर में राजस्थान सरकार और सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) के उठाए गए कदमों की खुलकर तारीफ की है. मोदी ने गहलोत मॉडल की तारीफ की है और अन्य राज्यों को भी राजस्थान का अनुसरण करने की सलाह दी है. मोदी ने सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ लॉकडाउन को लेकर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए समीक्षा बैठक की.

पीएम ने सभी राज्यों को राजस्थान से सीख लेने की सलाह दी
कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान 9 मुख्यमंत्रियों को बोलने का मौका मिला. पीएम मोदी ने अपने संबोधन में सभी मुख्यमंत्रियों से कोरोना संकट से निपटने में नए कदम उठाने, आगे बढ़कर इनिसिएटिव लेने की अपील की. इस दौरान पीएम मोदी ने इनिसिएटिव लेने पर सीएम अशोक गहलोत की जमकर तारीफ की. प्रवासी मजदूरों का संकट हो या कोराना को नियंत्रित करने को लिए गए एक्शन हों. इन विषयों में पीएम मोदी ने राजस्थान मॉडल और सीएम गहलोत की सभी मुख्यमंत्रियों के सामने तारीफ करते हुए पीठ थपथपाई. पीएम ने सबको राजस्थान से सीख लेने की भी सलाह दी.

मैं अशोक गहलोतजी को बधाई दूंगाउन्होंने कई इनिसिएटिव लिए

पीएम मोदी ने कहा, ‘मैं अशोक गहलोतजी को बधाई दूंगा, उन्होंने कई इनिसिएटिव लिए. उन्होंने लेबर के लिए समय-सीमा में बढोतरी की है. ठीक है थोड़ी-बहुत आलोचना हुई होगी, लेकिन राजस्थान ने एक दिशा दिखाई है. सभी राज्यों को ऐसी नई-नई चीजों को अपनाकर इसका अनुसरण करना होगा.

रिफॉर्म का इससे बड़ा कोई मौका नहीं, संकट को हम अवसर में पलट सकते हैं: मोदी
मोदी ने कहा कि, रिफॉर्म का इससे बड़ा कोई मौका नहीं हो सकता. हिम्मत के साथ राज्यों को रिफॉर्म के लिए आगे आना चाहिए. हो सकता है कोई कमी रह जाए तो समय रहते एक दो माह बाद उसे ठीक कर लिया जाए. उन्होंने कहा, ‘जैसे हम आर्थिक क्षेत्र में भारत सरकार से उम्मीद करते हैं, यह गलत भी नहीं है. हर राज्य में इस समय राजनीतिक विरोध की संभावना बहुत कम है. इस संकट को हम बहुत बड़े अवसर में पलट सकते हैं.’

READ More...  कांग्रेस पार्टी ने किया निष्कासित, भ्रष्टाचार के मामले में कोटा जिला प्रमुख हुआ गिरफ्तार

पीएम मोदी ने क्यों की गहलोत की तारीफ
पीएम मोदी द्वारा सीएम गहलोत की तारीफ करने के पीछे कोरोना संकट के बीच स्वास्थ्य क्षेत्र और सामाजिक क्षेत्र में उनके द्वारा किए गए फैसलों को बड़ा कारण माना जा है. यही कारण है कि कांग्रेस शासित राज्य का सीएम होते हुए भी पीएम ने गहलोत की न केवल तारीफ की बल्कि उनके द्वारा की गई पहल को अन्य राज्यों को भी अपनाने की सलाह दी. प्रेक्षकों के मुताबिक कोरोना पर नियंत्रण के लिए सीएम अशोक गहलोत ने सबसे पहले लॉकडाउन का फैसला किया. लॉकडाउन के बीच उन्होंने कोरोना के ज्यादा से ज्यादा टेस्ट करने पर बल दिया.

मोदी ने राजस्थान मॉडल को चर्चा में ला दिया
राज्य में फंसे हुए प्रवासी श्रमिकों और कोटा में फंसे कोचिंग छात्रों को उनके घर भिजवाने का फैसला किया. प्रवासी श्रमिकों की घर वापसी के मुद्दे को लगातार उठाकर इसके समाधान तक काम किया. यही वजह है कि सोमवार को पीएम ने अशोक गहलोत की तारीफ की. पीएम नरेंद्र मोदी की इस तारीफ के बाद अब कोराना के दौर में राजस्थान मॉडल की देश भर में चर्चा शुरु हो गई है. पहले भीलवाड़ा मॉडल चर्चा में रहा, सोमवार को पीएम नरेंद्र मोदी ने राजस्थान मॉडल को चर्चा में ला दिया.

मोदी की तारीफ को कांग्रेस केंद्र के सर्टिफिकेट की तरह करेगी इस्तेमाल
पीएम मोदी ने सीएम अशोक गहलोत के कामकाज की खुलकर तारीफ की, उसके दूरगामी सियासी मायने भी हैं. आने वाले दिनों में कांग्रेस इसे अपने पक्ष में भुनाएगी. कांग्रेस को यह अच्छा का मौका मिल गया कि उनकी सरकार के कामकाज की पीएम तक ने तारीफ की और कांग्रेस इसे राज्य के कामकाज पर केंद्र के सर्टिफिकेट की तरह पेश करेगी. राजनीतिक प्रेक्षकों का मानना है कि पीएम द्वारा की गई इस तारीफ के बाद कोरोना वायरस को लेकर गहलोत सरकार पर आरोप लगाने वाले बीजेपी नेताओं को जरूर निराशा हुई है. पीएम की तारीफ के बाद राजस्थान बीजेपी के आरोपों की धार पर जरूर असर पड़ा है.