COVID-19: लॉकडाउन और सरकार की सख्ती, जरुरतमंदों का ख्याल, कोई भूखा ना रहे

0
350

कोरोना (COVID-19) से जंग लड़ने के लिए राज्य सरकार ने अब पूरी तरह से सख्ती बरतनी शुरू कर दी है. लॉकडाउन (Lockdown) का पालन कराने के लिए पुलिस प्रशासन सड़कों पर निगरानी रखे हुए है. उल्लंघन करने वालों के खिलाफ मामले दर्ज कर गिरफ्तारियां की जा रही हैं. वहीं वाहनों के चालान काटे जा रहे हैं. गत 2-3 दिन में प्रदेशभर में सैंकड़ों वाहनों का चालान किया जा चुका है. दर्जनों लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं. वहीं इन आपात परिस्थितियों में कोई जरुरतमंद भूखा ना रहे इसके भी माकूल प्रबंध किए जा रहे हैं. सीएम अशोक गहलोत लगातार हालात की मॉनिटरिंग कर रहे हैं.

कोटा में 2000 जवान डटे हैं सड़कों पर
कोचिंग सिटी कोटा में लॉकडाउन की पालना कराने के लिए पुलिस-प्रशासन ने पुलिस, आरएसी और होमगार्ड के करीब 2000 जवान और अधिकारी लगाए गए हैं. शहर के 39 पॉइंट्स पर इनको तैनात किया गया है. इनमें 2 अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, 9 पुलिस उपाधीक्षक और 20 पुलिस निरीक्षक भी शामिल हैं. लॉकडाउन का उल्लंघन करने पर शहर में अब तक 76 वाहनों को जब्त किया जा चुका है. वाहन जब्त करने की कार्रवाई प्रदेशभर में जारी है. बेवजह सड़कों पर घूमने वाले लोगों के खिलाफ मामले दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है.

वीसी के जरिए सीएम ने की लॉकडाउन के हालात की समीक्षा

वहीं लॉक डाउन के दौरान उपजे हालात में कोई जरुरतमंद भूखा नहीं रहे इसके पुख्ता प्रबंध किए जा रहे हैं. बुधवार को सीएम अशोक गहलोत ने जयपुर में वीसी के जरिए लॉकडाउन के हालात की समीक्षा की. सीएम ने कोरोना कोर ग्रुप और वॉर रूम के अधिकारियों के साथ वीसी करते हुए उनको निर्देश दिए कि किसी भी सूरत में आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई चैन बाधित ना हो. इसके लिए आवश्यक वस्तुओं की दुकानें खुलें इसका ध्यान रखा जाए.

COVID-19: लॉकडाउन और सरकार की सख्ती, जरुरतमंदों का ख्याल, कोई भूखा ना रहे COVID-19: Lockdown and government sternness-Take care of the needy-no one is hungry

कोविड-19 में अब तक 26 करोड़ का योगदान आया
सीएम ने निर्देश दिए कि फल सब्जी और खाद्य पदार्थ सप्लाई करने वाले ट्रकों को नहीं रोका जाए. मंडियों में अनाज की खरीद फरोख्त जारी रहे. बेजुबान पशु पक्षियों की भी चिंता करें. पशु पक्षियों के लिए दाना पानी की व्यवस्था हो. सीएम ने भ्रामक सूचनाओं को रोकने के भी निर्देश दिए हैं. सीएम ने कहा कि गुजरात बॉर्डर से आने वालों को स्क्रीनिंग के बाद ही प्रदेश में प्रवेश दिया जाए. सीएम ने बताया की रिलीफ फंड कोविड-19 में अब तक 26 करोड़ का योगदान आ चुका है.

READ More...  ये है योगी सरकार का 'ऑपरेशन नेस्तनाबूद', अब माफियाओं की प्रॉपर्टी तो जब्त होगी ही, जुर्माना भी होगा भरना