दलित किशोरी आत्महत्या केस: आरोपी गिरफ्त से दूर, गैंगरेप का आरोप लगा रहे पीड़ित परिवार का फूटा गुस्सा, प्रदर्शन

0
17

चित्रकूट. उत्तर प्रदेश के चित्रकूट में दलित किशोरी की आत्महत्या मामले में बवाल बढ़ गया है. मामले में पीड़ित परिवार ने मानिकपुर व कर्वी रोड पर जाम लगा दिया. गैंगरेप का आरोप लगा रहे परिवार के लोग आरोपियों को फांसी दिए जाने की मांग कर रहे हैं. इसके अलावा पीड़ित परिजन सरैया चौकी प्रभारी के खिलाफ भी कार्रवाई की मांग कर रहे हैं. आरोप है कि 8 अक्टूबर को पूर्व प्रधान के बेटे और उसके साथियों ने दलित किशोरी के साथ गैंगरेप किय और नर्सरी में बांधकर फेंक दिया. मामले में आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं. शहर कोतवाली क्षेत्र के चकौद के कैमहा पुरवा गांव की ये घटना है.

उधर मामले में एसपी ने शहर कोतवाल जय शंकर सिंह और सरैया चौकी प्रभारी अनिल साहू को निलंबित कर दिया है. गैंगरेप आरोपी किशन के गिरफ्तारी का भी पुलिस दावा कर रही है. वहीं जाम लगाए लोगों को एडीएम व अपर पुलिस अधीक्षक समझाने में जुटे हैं. प्रदर्शन कर रहे लोग आईजी चित्रकूट जोन के मौके पर आने की मांग कर रहे हैं,

मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार: सीओ

मामले में सीओ सिटी रजनीश यादव ने बताया कि एससी/एसटी एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया गया है. आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी. लड़की की मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार है, जांच जारी है.

बता दें मृतक किशोरी के परिजनों ने आरोप लगाया है कि उनकी बेटी दिन में घर से बाहर गई थी लेकिन वह जब काफी देर तक नहीं लौटी तो उसको ढूंढा गया. कुछ घंटों के बाद किशोरी गांव की ही एक नर्सरी में मिली. उसके हाथ पैर बंधे हुए थे. परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी. हालांकि इस दौरान किशोरी ने किसी भी संबंध में जानकारी नहीं दी थी. मंगलवार को जब परिजन खेत में काम करने के लिए गए तो पीछे से किशोरी ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली.

READ More...  सहवाग का बड़ा बयान, कहा- जो धोनी ने मेरे साथ किया वो ऋषभ पंत के साथ न करें विराट कोहली!

परिजनों ने कहा- बेटी का हुआ था रेप

परिजनों का आरोप है कि जिस दिन बेटी नर्सरी में मिली थी, उस दिन उसके साथ रेप हुआ था. लेकिन डर के चलते किशोरी ने किसी से कुछ नहीं कहा और इसी बात को लेकर वो परेशान थी. बाद में तनाव के चलते उसने आत्महत्या का कदम उठाया. फिलहाल परिजनों ने गांव के ही 3 आरोपियों के खिलाफ थाने में तहरीर दी है. वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया है और पोस्टमार्टम के लिए भेजा है. पुलिस के अनुसार प्रथम दृष्टया ये आत्महत्या का मामला है बाकि पोस्टमार्टम की रिपोर्ट और तहकीकात के बाद मामले पर पूरी जानकारी मिल सकेगी.