कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व होंगे ICU बेड…दिल्ली HC ने दिए आदेश

0
169
Unconscious and intubated Covid-19 patients are treated in Vila Penteado Hospital's ICU, in the Brasilandia neighborhood of Sao Paulo, on June 21, 2020. According ta a study published in June 21st, Brazil's public hospitals, like Vila Penteado, had almost 40% death rates from the new coronavirus, the double from private hospitals. Brasilandia is one of the neighborhhods in Sao Paulo with highest number of deaths from Covid-19 (Photo by Gustavo Basso/NurPhoto via Getty Images)

कोरोना मरीजों के मामलों में लगातार बढ़ोतरी देखी जा रही है। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना मामलों में दिन-ब-दिन इजाफा हो रहा है। ऐसे में दिल्ली हाईकोर्ट ने मरीजों को देखते हुए दिल्ली के 33 प्राइवेट अस्पतालों के 80% बेड कोरोना वायरस मरीजों के लिए रिजर्व करने का आदेश जारी कर दिया है।

गौरतलब है कि इससे पहले सरकारी अस्पतालों में बेड की कमी का मुद्दा उठा था। जिसे लेकर कोर्ट ने सरकार को फटकार भी लगाई थी। वहीं अब दिल्ली हाईकोर्ट ने आदेश जारी कर अस्पतालों को बेड सुरक्षित रखने के निर्देश दे दिए हैं।

हालांकि अभी कोर्ट ने ये आदेश फिलहाल दो हफ्ते के लिए ही दिया है. इसके बाद हाईकोर्ट 26 नवंबर को इस मामले में दोबारा समीक्षा करेगा। समीक्षा के दौरान दो हफ्ते बाद हाईकोर्ट देखेगा कि क्या 33 प्राइवेट अस्पतालों के 80 फीसदी आईसीयू बेड को आगे भी रिजर्व रखा जाए या नहीं। इसके साथ ही कोर्ट ने दिल्ली सरकार को तीन दिन के भीतर कोविड-19 के लगातार बढ़ रहे मामलों को लेकर अपना जवाब दाखिल करने को भी कहा है। इसके अलावा दिल्ली हाईकोर्ट ने प्राइवेट अस्पतालों को निर्देश दिया है कि वह कोरोना मरीजों के लिए 80 फीसदी आईसीयू बेड बाकी के बचे 20 फीसदी आईसीयू बेड से अलग रखें, जिससे 20 फीसदी नॉन-कोविड मरीजों को कोविड-19 के मरीजों का संक्रमण न लग सके।

READ More...  जानिए डूंगरपुर में खाद्य सुरक्षा योजना का अंजाम, गरीबों को 5 किलो अनाज देने का ऐलान