दिल्‍ली समेत इन राज्‍यों में जताया बारिश का अनुमान, मौसम विभाग ने पश्चिम बंगाल

0
26
भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी के उत्तर पूर्व और पड़ोस में हवा का निम्न दबाव का क्षेत्र बना है और यह अगले दो-तीन दिन में पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ेगा.

देश के कई हिस्‍सों में मॉनसून के तहत बारिश जारी है. कुछ राज्‍यों में बाढ़ जैसी स्थिति है. इस बीच भारत मौसम विज्ञान विभाग ने मंगलवार को कुछ राज्‍यों के हिस्‍सों में हल्‍की से भारी बारिश का अनुमान जताया है. वहीं राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली समेत आसपास के इलाकों में पिछले कुछ दिनों से तेज धूप निकलने के कारण तापमान में बढ़ोतरी देखी गई है. आईएमडी ने दिल्‍ली और ग्रेटर नोएडा के भी कुछ हिस्‍सों में बारिश का अनुमान जताया गया है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार मंगलवार को पश्चिम बंगाल और सिक्किम के सब हिमालय क्षेत्र में हल्‍की से भारी बारिश का अनुमान जताया गया है. इसके साथ ही मौसम विभाग ने कोंकण और गोवा के भी कई हिस्‍सों में भारी बारिश होने का पूर्वानुमान लगाया है. बंगाल की खाड़ी के उत्तर पूर्व और पड़ोस में हवा का निम्न दबाव का क्षेत्र बना है और यह अगले दो-तीन दिन में पश्चिम-उत्तर पश्चिम की ओर बढ़ेगा.

मौसम विभाग ने उत्‍तर प्रदेश और दिल्‍ली के कुछ हिस्‍सों में भी मंगलवार को बारिश का अनुमान जताया है. मौसम विभाग के अनुसार यूपी के बुलंदशहर, अमरोहा, गढ़ मुक्‍तेश्‍वर, सियाना, मेरठ, अनूप शहर, जहांगीराबाद, शिकारपुर, दिबाई, सिकंदराबाद में बारिश हो सकती है.

बता दें कि कि केरल में पिछले दो दिनों से लगातार बारिश हो रही है. इससे जुड़ी घटनाओं में तीन लोगों को मौत हो गई है. सोमवार को भी राज्य के कई हिस्सों में बारिश हुई. राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने सोमवार को बताया कि कासरगोड जिले में दो अलग-अलग स्थानों पर पानी से भरे गड्ढों में गिरने से 37 और 50 वर्ष के दो व्यक्ति डूब गए.भारत मौसम विज्ञान विभाग ने उत्तर पूर्व बंगाल की खाड़ी में निम्न वायु दाब का क्षेत्र बनने के बाद 10 जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. कोट्टयम, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर, पलक्कड़, मालापुरम, कोझिकोड, वायनाड, कन्नूर और कासरगोड जिलों के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया था. कुंडला, कल्लारकुट्टी, मलंकारा और पोनमुडी बांध के फाटक खोल दिए गए हैं जिससे पेरियार, मुतीरापुझा और मुवाट्टुपुझा नदियों में जलस्तर बढ़ गया है.

READ More...  जयपुर: टिड्डियों के हमले से निपटने के लिए कैलाश चौधरी का बड़ा बयान

बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण सोमवार को ओडिशा के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हुई. मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में राज्य में और अधिक बारिश होने का अनुमान लगाया है. मौसम के पूर्वानुमान को ध्यान में रखते हुए, राज्य सरकार ने जिला कलेक्टरों को परामर्श जारी कया है कि वे पहाड़ी क्षेत्रों में किसी भी संभावित जल-जमाव, बाढ़ और भूस्खलन के लिए तैयार रहें. मौसम विभाग ने कहा कि अगले 23 दिनों में कम दबाव क्षेत्र के पश्चिम की ओर बढ़ने की संभावना है.

हरियाणा और पंजाब में अधिकतम तापमान सोमवार को सामान्य से ज्यादा दर्ज किया गया. मौसम विभाग के मुताबिक हरियाणा के भिवानी और नारनौल में 38.1 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया जबकि हिसार में यह 37.6 डिग्री रहा. अंबाला और करनाल में अधिकतम तापमान क्रमश: 36.7 डिग्री सेल्सियस और 35.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. दोनों राज्यों की साझा राजधानी चंडीगढ़ में भी लोगों को गर्मी का सामना करना पड़ा जहां अधिकतम तापमान 36.6 डिग्री सेल्सियस रहा.