सरकार से लिखित समझौते के बाद हड़ताल खत्म, आज से काम पर लौटे रेजीडेंट डॉक्टर

0
214

जयपुर : राजस्थान में 3 दिन से जारी रेजीडेंट डॉक्टरों की हड़ताल  गुरुवार रात को खत्म हो गई. रेजिडेंट डॉक्टर्स को राज्य सरकार की ओर से उनकी मांगों को लेकर दिए गए ऑफर पर रेजीडेंट्स की जीबीएम  में सकारात्मक रूझान के बाद लिखित समझौता पत्र तैयार किया गया. सचिवालय में चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया के साथ रेजीडेंट्स की वार्ता हुई और इसके बाद तीन दिन से जारी हड़ताल समाप्त करने की घोषणा का दी गई.

इससे पहले चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया के साथ होने वाली इस वार्ता के सकारात्मक रहने की उम्मीद बताई जा रही थी. रेजीडेंट डॉक्टर्स हड़ताल को लेकर सरकार ने फीस वृद्धि मामले में 30 हजार रुपये फीस करने और 3 साल की कैपिंग का ऑफर दिया था. एचआरए मामले में फ्रेशर्स को 2 हजार रुपए का अलाउंस देने और रेजिडेंट डॉक्टर की सुरक्षा के लिए नए टेंडर पर पहले ही सहमति बन चुकी थी.

प्रदेशभर में मरीज परेशान, सैकड़ों ऑपरेशन टालने पड़े
प्रदेशभर में मंगलवार से रेजीडेंट डॉक्टर हड़ताल पर चल रहे थे. करीब 5000 से ज्यादा रेजीडेंट्स के काम पर नहीं आने से प्रदेशभर के सरकारी अस्पतालों में स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित रही. एक रिपोर्ट के अनुसार हड़ताल के पहले ही दिन प्रदेशभर में पहले से प्रस्तावित 310 से अधिक ऑपरेशन टल गए और 15000 से ज्यादा मरीज परेशान होते रहे.

READ More...  कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने विकास दुबे एंकाउंटर को लेकर ट्वीट किया और कहा की - 'कई जवाबों से अच्छी है ख़ामोशी उसकी'