जनरल सुलेमानी की मौत से उबला ईरान, ट्रंप का सिर कलम करने पर रखा 80 मिलियन डॉलर का इनाम

0
181

तेहरान : इराक के बगदाद में हुए अमेरिकी हमले में कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी (General Qassem Soleimani) की मौत के बाद ईरान में जबरदस्त आक्रोश है. ईरानी की एक संस्था ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) का सिर काटने पर बड़े इनाम का ऐलान कर दिया है. अंतरराष्ट्रीय मीडिया में प्रकाशित खबरों के अनुसार, ईरानी संस्था ने कहा कि जो भी ट्रंप का सिर कलम करेगा, उसे 80 मिलियन डॉलर (करीब 5.76 अरब रुपये) का इनाम दिया जाएगा. रविवार को ट्रंप ने ईरान को ब्रैंड न्यू हथियारों से हमले की धमकी दी थी, जिसके कुछ देर बाद ही ईरान ने ये ऐलान किया.

जनरल सुलेमानी के जनाजे के दौरान एक संस्था ने ईरान के सभी नागरिकों से एक डॉलर दान करने की अपील की, ताकि ट्रंप के सिर के बदले रखे गए 80 मिलियन डॉलर की रकम इकट्ठा की जा सके.

जवाब में ट्रंप ने किया ये ट्वीट
उधर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘ईरान अगर किसी यूएस प्रतिष्ठान और अमेरिकन को चोट पहुंचाता है, तो उसे तत्काल और पूरी तरह से खतरनाक अंदाज में जवाब दिया जाएगा. ऐसे कानूनी नोटिस की यूं तो जरूरत नहीं है, लेकिन मैंने फिर भी चेता दिया है.’

बता दें कि ईरान और अमेरिका में तीसरे विश्व युद्ध के हालात बन रहे हैं. जनरल कासिम सुलेमानी का स्थान ईरान में काफी ऊंचा था और उनकी हत्या से देशवासी उत्तेजित हैं. हाल ही में ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा था कि 2015 में हुए परमाणु समझौते के किसी भी शर्तों को अब नहीं माना जाएगा.

ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘देश अब यूरेनियम संवर्धन और उनके प्रसार पर किसी पाबंदी को स्वीकार नहीं करेगा. ईरान अब संवर्धित यूरेनियम से जुड़े रिसर्च और विकास कार्यों और परमाणु कार्यक्रमों में पाबंदी को स्वीकार नहीं करेगा.’

SOLEMANI

जनरल कासिम सुलेमानी का स्थान ईरान में काफी ऊंचा था और उनकी हत्या से देशवासी उत्तेजित हैं.

सुलेमानी की मौत के बाद ईरान ने अमेरिका के लिए जारी किया ये मैसेज
जनरल कासिम सुलेमानी की मौत के बाद ईरानी सुप्रीम लीडर अयातुल्ला सैय्यद अली खुमैनी ने अमेरिका का नाम एक संदेश जारी किया. उन्होंने अपने बयान में कहा कि पृथ्वी के सबसे क्रूर लोगों ने उस कमांडर सुलेमानी की हत्या कर दी, जिसने दुनिया की बुराइयों और डकैतों के खिलाफ बहादुरी से लड़ाई लड़ी. खुमैनी ने कहा, ‘सुलेमानी की मौत से उनका मिशन नहीं रुकेगा, लेकिन जिन अपराधियों ने उनकी और अन्य शहीदों के खून से अपने हाथ रंगे हैं, उन्हें जरूर एक जबरदस्त बदले और अंजाम भुगतने की प्रतीक्षा करनी चाहिए.’

READ More...  COVID-19: राजस्थान में 1227 सैंपल में से 32 पॉजिटिव, जोधपुर में दो नए मामले आए

बीते गुरुवार रात को बगदाद में हुए अमेरिका की एयरस्ट्राइक में मेजर जनरल कासिल सुलेमानी और अबू महदी अल-मुहांदिस समेत 8 लोगों की मौत हो गई. इस हमले के फौरन बाद अमेरिकी राष्ट्रपति ने अपने ट्विटर अकाउंट से अमेरिका का झंडा ट्वीट किया. कुछ देर बाद अमेरिका ने इस हमले की आधिकारिक जिम्मेदारी भी ले ली.

IRAN

बगदाद में हुए हमले में मेजर जनरल कासिल सुलेमानी और अबू महदी अल-मुहांदिस समेत 8 लोगों की मौत हो गई.

ट्रंप ने कहा था सुलेमानी और काफी पहले मार देना चाहिए था
अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के निर्देश पर विदेश में रह रहे अमेरिकी सैन्यकर्मियों की रक्षा के लिए कासिम सुलेमानी को मारने का कदम उठाया गया है. अमेरिका ने उन्हें आतंकवादी घोषित कर रखा था. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि ईरान के कमांडर जनरल कासिम सुलेमानी को वर्षों पहले ही मार गिराना चाहिए था.

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने भी ईरानी कमांडर जनरल कासिल सुलेमानी को मार गिराने को बड़ी कामयाबी बताया है. उन्होंने दावा किया कि ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी बड़ी साजिश रच रहा था, जिसके सैकड़ों अमेरिकियों के लिए खतरा पैदा हो गया था. अब ईरान ने अमेरिका को खुली चेतावनी दी है कि वह अपने जनरल कासिम सुलेमानी की मौत का इंतकाम ज़रूर लेगा.