मुझे PM मोदी पसंद हैं इसलिए BJP में शामिल हुई- चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी विद्या रानी ने कहा

0
111

29 साल की विद्या रानी ने बीए किया है साथ ही उनके पास एलएलबी की भी डिग्री है. विद्या का कहना है कि हमेशा उनकी दिलचस्पी सोशल वर्क में रही है और ये उनके लिए लोगों की सेवा करने का अच्छा मौका है.

चेन्नई. पिछले हफ्ते तमिलनाडु में बीजेपी ने कई मशहूर हस्तियों को पार्टी में शामिल किया. इनमें चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी विद्या रानी का नाम भी शामिल था. कहा जा रहा है अगले साल विधानसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी ने राज्य की कार्यकारी समिति में ढेर सारे बदलाव किए हैं. दिवंगत मुख्यमंत्री एम जी रामचंद्रन के कई रिश्तेदारों को पार्टी में जगह दी गई. लेकिन हर किसी की निगाहें वीरप्पन की बेटी पर टिकी थी.

पसंद हैं पीएम मोदी


अंग्रेजी वेबसाइट रेडिफ डॉट कॉम से बातचीत करते हुए वीरप्पन की बेटी विद्या ने बीजेपी में शामिल होने की वजह बताई. उन्होंने कहा, ‘मैं पीएम नरेंद्र मोदी को पसंद करती हूं इसलिए मैं बीजेपी में शामिल हुई. पीएम मोदी बेहद सख्त मिजाज के हैं. वो हमेशा एक्टिव रहते हैं साथ ही वो हमेशा सही काम करते हैं.’ जब उनसे पूछा गया कि आखिर वो AIADM और DMK जैसी पुरानी पार्टी में क्यों शामिल नहीं हुईं? तो इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि उन्हें बीजेपी में शामिल होने के लिए खुद कॉल आया था और ये उनके लिए सम्मान की बात है.

समाज सेवा पर ध्यान

29 साल की विद्या रानी ने बीए किया है साथ ही उनके पास एलएलबी की भी डिग्री है. विद्या का कहना है कि हमेशा उनकी दिलचस्पी सोशल वर्क में रही है और ये उनके लिए लोगों की सेवा करने का अच्छा मौका है. जब उनसे पूछा गया कि क्या राजनीति में आने के बाद दूसरी पार्टियों के नेता उनके पिता को लेकर उन पर हमला नहीं करेंगे? इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘हर किसी को मेरे पिता के बारे में पता है. उनके बारे में कुछ भी नया नहीं है. वो मेरे लिए हमेशा पिता रहेंगे. मैं विकास के कामों पर अपना ध्यान लगाऊंगी.’

16 साल पहले विरप्पन की मौत

1987 में वीरप्पन ने देश को तब हिलाकर रख दिया जब उसने चिदंबरम नाम के एक फॉरेस्ट अफसर को किडनैप कर लिया था. उसने एक पुलिस टीम को उड़ा दिया, जिसमें 22 लोग मारे गए. फिर 2000 में वीरप्पन ने कन्नड़ फिल्मों के हीरो राजकुमार को किडनैप कर लिया. रिहाई के लिए उसने 50 करोड़ की फिरौती रखी थी. 18 अक्टूबर 2004 को वीरप्पन एक पुलिस एनकाउंटर में मारा गया था.

READ More...  पंचायती चुनाव के मद्देनजर चेकिंग में भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब जब्त, बाजार में शराब की कीमत 32 लाख आंकी गई