INDvsNZ : टीम इंडिया ने सुपरओवर में छक्का लगाकर जीता मैच, न्यूजीलैंड में पहली सीरीज जीत रचा इतिहास

0
210

हैमिल्टन: भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ हैमिल्टन में खेला गया तीसरा टी20 मैच सुपरओवर में अपने नाम कर इस देश में पहली टी20 सीरीज जीतकर इतिहास रच दिया. निर्धारित ओवरों के बाद मैच टाई हो गया था. भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट पर 179 रन बनाए. जवाब में न्यूजीलैंड की टीम भी 6 विकेट पर 179 रन ही बना सकी. इस तरह मैच सुपरओवर में पहुंच गया, जहां भारतीय टीम ने बाजी मार ली. सुपरओवर में न्यूजीलैंड के लिए कप्तान केन विलियम्सन और मार्टिन गप्टिल बल्लेबाजी के लिए उतरे. दोनों ने 17 रन बनाकर टीम इंडिया के सामने सीरीज जीत के लिए 6 गेंदों पर 18 रनों का लक्ष्य रखा. जवाब में केएल राहुल और रोहित शर्मा ने भारतीय टीम को शानदार अंदाज में जीत दिलाई.

सुपरओवर का रोमांच
न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन और मार्टिन गप्टिल के सामने भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह सुपर ओवर करने पहुंचे. विलियम्सन ने पहली गेंद पर सिंगल लिया. दूसरी गेंद पर गप्टिल भी एक रन ही ले सके. विलियम्सन ने इसके बाद तीसरी गेंद पर छक्का और चौथी गेंद पर बेहतरीन चौका जड़ दिया. इसके बाद उन्होंने बाई का भी एक रन चुरा लिया. ओवर की छठी गेंद पर गप्टिल ने चौका जड़कर टीम का स्कोर 17 रन पहुंचा दिया. भारतीय टीम के लिए केएल राहुल और रोहित शर्मा की नियमित ओपनिंग जोड़ी उतरी. न्यूजीलैंड के लिए टिम साउदी ओवर करने आए. पहली गेंद पर रोहित शर्मा ने दो रन लिए, जबकि दूसरी गेंद पर एक रन ही ले सके. तीसरी गेंद पर केएल राहुल ने चौका जड़ दिया. अब तीन गेंदों पर 11 रन की जरूरत थी. चौथी गेंद पर राहुल ने एक रन लिया तो पांचवीं गेंद पर रोहित शर्मा ने छक्का लगाया. एक गेंद पर 4 रन की दरकार थी. आखिरी गेंद पर रोहित ने छक्का जड़कर टीम को जीत दिला दी.

केन विलियम्सन की जादुई पारी से न्यूजीलैंड ने की यादगार वापसी
इससे पहले, भारतीय टीम पांच मैचों की टी20 सीरीज में 2-0 से आगे थी. हैमिल्टन में तीसरे टी20 में भी टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 179 रनों का मजबूत स्कोर खड़ा कर दिया था. हर तरह से दबाव न्यूजीलैंड पर ही था. मगर मेजबान कप्तान केन विलियम्सन कुछ अलग ही इरादों के साथ इस मैच में उतरे. ऐसे में जब न्यूजीलैंड के खिलाड़ी कुछ देर टिकने के बाद क्रीज को छोड़ते चले गए, तो केन विलियम्सन ने खुद ही न्यूजीलैंड को विजयी मंजिल तक पहुंचाने का जिम्मा उठाया. यही वजह रही कि केन की बेहतरीन पारी (48 गेंद पर 95 रन) और वर्ल्ड रिकॉर्ड के साथ न्यूजीलैंड ये मुकाबला टाई करने में सफल रही. हालांकि सुपरओवर में टीम को हार का सामना करना पड़ा.

टीम इंडिया से मिले 180 रन के लक्ष्य के जवाब में न्यूजीलैंड को मार्टिन गप्टिल (31) और कॉलिन मनरो (14) ने तेज शुरुआत दिलाई, लेकिन दोनों खिलाड़ी 7वें ओवर तक 52 रन के स्कोर पर पवेलियन लौट गए. इसके बाद ये मैच सिर्फ एक खिलाड़ी के इर्द-गिर्द सिमट गया, जिसका नाम है केन विलियम्सन. उन्होंने अकेले दम पर न्यूजीलैंड को विजयी मंजिल के दरवाजे तक पहुंचाया और 48 गेंदों पर 95 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली. इस पारी में विलियम्सन ने 8 चौके और 6 छक्के जड़े. केन जब आउट हुए तक टीम को 4 गेंदों पर 2 रन बनाने थे. जिसके बाद मैच टाई हो गया.

6 गेंदों पर 9 रन की दरकार, मोहम्मद शमी ने टाई कराया मैच 
न्यूजीलैंड को सीरीज में वापसी के लिए आखिरी छह गेंदों पर 9 रन बनाने थे. टीम इंडिया के लिए आखिरी ओवर करने मोहम्मद शमी आए. पहली ही गेंद उन्होंने फुलटॉस दी, जिस पर रॉस टेलर ने लेग साइड पर बेहतरीन छक्का लगा दिया. टेलर ने दूसरी गेंद पर सिंगल लिया, जिसके बाद 4 गेंदों पर दो रन बनाने थे. स्ट्राइक पर केन विलियम्सन थे, जिन्होंने शमी की तीसरी गेंद पर विकेटकीपर केएल राहुल को कैच थमा दिया. उन्होंने 48 गेंद पर 95 रन बनाए. उनके आउट होने के बाद सीफर्ट आए, जिन्होंने पहली गेंद खाली निकाल दी. अब टीम को दो गेंदों पर दो रन की दरकार थी. शमी की पांचवीं गेंद भी केएल राहुल के हाथ में गई, लेकिन दोनों बल्लेबाजों ने बाई का रन चुरा लिया. अब टीम को एक गेंद पर एक रन बनाना था और रॉस टेलर स्ट्राइक पर थे.

READ More...  दुश्मनों को सीमा पर घेरने के लिए रिकॉर्ड समय में तैयार किए गए 6 पुल, रक्षा मंत्री ने उद्घाटन कर देश को किया समर्पित

बुमराह के आखिरी दो ओवरों में बना दिए 25 रन
न्यूजीलैंड को आखिरी चार ओवरों में 43 रन की दरकार थी. जसप्रीत बुमराह के इस ओवर में केन विलियम्सन ने तीन चौकों समेत 14 रन लूट लिए. इसके बाद 18 गेंदों में 29 रन का लक्ष्य बाकी रह गया. 18वें ओवर में युजवेंद्र चहल ने 9 रन दिए और इस तरह 12 गेंदों पर न्यूजीलैंड को जीत के लिए 20 रन बनाने थे. 19वां ओवर करने बुमराह फिर लौटे, लेकिन उनका ये ओवर भी महंगा रहा. इसमें उन्होंने दो चौकों समेत 11 रन लुटा दिए. इस तरह बुमराह के आखिरी दो ओवरों में 25 रन आए.

बतौर कप्तान सबसे ज्यादा टी20 अर्धशतक का वर्ल्ड रिकॉर्ड 
इस मैच से पहले बतौर कप्तान टी20 में सबसे ज्यादा अर्धशतक जड़ने का रिकॉर्ड तीन खिलाड़ियों के नाम था. इनमें भारतीय कप्तान विराट कोहली, साउथ अफ्रीका के कप्तान फाफ डुप्लेसी और न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन शामिल थे. ये तीनों खिलाड़ी बतौर कप्तान 8-8 अर्धशतक लगा चुके थे. मगर इस मैच में बेहतरीन शतक जड़कर केन ने बतौर कप्तान नौवीं बार 50 रनों का आंकड़ा पार कर वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया.

पावरप्ले में जड़ दिया रोहित ने अर्धशतक 
टॉस हारने के बाद मैदान पर बल्लेबाजी के लिए उतरे रोहित शर्मा और केएल राहुल ने टीम इंडिया को ताबड़तोड़ शुरुआत दिलाई. रोहित शर्मा शुरुआत में थोड़े धीमे रहे और 11 गेंदों पर 12 रन बनाकर खेल रहे थे. मगर इसके बाद जैसे उनके बल्ले ने आग उगलनी शुरू कर दी. पांचवें ओवर तक टीम ने बिना विकेट खोए 42 रन बना लिए थे. तब रोहित शर्मा 18 गेंदों पर 24 रन बनाकर खेल रहे थे. मगर छठा ओवर करने आए हामिश बेनेट के ओवर में रोहित ने कोहराम मचा दिया. इस ओवर की दूसरी, तीसरी और छठी गेंद पर रोहित ने छक्का जड़ा, जबकि चौथी और पांचवीं गेंद को चौके के लिए भेजा. इस तरह उन्होंने 23 गेंदों पर अर्धशतक ठोक दिया. रोहित टी20 क्रिकेट में पावरप्ले में अर्धशतक लगाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज भी बन गए.

रनों की रफ्तार पर लगा ब्रेक
टीम को ताबड़तोड़ शुरुआत दिलाने वाली केएल राहुल और रोहित शर्मा की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए 89 रनों की साझेदारी की. केएल राहुल के कोलिन ग्रैंडहोम की गेंद पर मनरो को कैच थमाने के साथ ही इस साझेदारी का अंत हुआ. उन्होंने 19 गेंदों पर 27 रन बनाए. नो ओवर में टीम का स्कोर एक विकेट पर 89 रन था.

शिवम दुबे को भेजा तीसरे नंबर पर
कप्तान विराट कोहली  ने तीसरे नंबर पर अपनी जगह शिवम दुबे को भेजा ताकि रनगति बढ़ सके. मगर 11वें ओवर में रोहित शर्मा बेनेट की गंद पर साउदी को कैच देकर चलते बने. उन्होंने 40 गेंदों पर 65 रन बनाए. इस पारी में 6 चौके और 3 छक्के लगाए. दुबे भी कप्तान की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके और रोहित के आउट होने के एक दिन बाद ही 7 गेंद पर 3 रन बनाकर आउट हो गए.

विराट ने बनाए 27 गेंद पर 38 रन
96 रन पर तीन विकेट गिरने के बाद विराट कोहली और श्रेयस अय्यर ने पारी को आगे बढ़ाया. हालांकि अय्यर 16 गेंद पर 17 रन बनाकर सैंटनर की गेंद पर स्टंप आउट हो गए. विराट कोहली भी रनगति बढ़ाने के चक्कर में विकेट दे बैठे. उन्हें बेनेट ने साउदी के हाथों कैच कराया. भारतीय कप्तान ने 27 गेंदों पर 38 रन की पारी में 2 चौके और एक छक्का लगाया. इसके बाद मनीष पांडे और रवींद्र जडेजा ने टीम को 179 रन के चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंचाया. मनीष पांडे ने 6 गेंदों पर नाबाद 14 और जडेजा ने 5 गेंदों पर नाबाद 10 रन बनाए. न्यूजीलैंड के लिए हामिश बेनेट ने तीन विकेट जरूर लिए, लेकिन इसके लिए उन्होंने चार ओवर में 54 रन खर्च किए.

विराट ने तोड़ा धोनी का रिकॉर्ड
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने 38 रन की पारी के दौरान विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी का रिकॉर्ड भी तोड़ दिया. विराट बतौर भारतीय कप्तान टी20 क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. धोनी ने टी20 क्रिकेट में बतौर कप्तान भारत के लिए 1112 रन बनाए हैं. विराट अब इससे आगे निकल गए हैं. उन्हें इस मैच से पहले धोनी को पीछे छोड़ने के लिए 25 रन की दरकार थी.