जयपुर: कांग्रेस स्थापना दिवस पर PCC में समारोह, केंद्र के खिलाफ सड़क पर उतरे कांग्रेसी

0
98

जयपुर : कांग्रेस 28 दिसंबर अपना 134वां स्थापना दिवस मना रही है. 28 दिसंबर देशभर में ‘संविधान बचाओ-भारत बचाओ’ संदेश के साथ कांग्रेस कई जगह मार्च निकालेगी. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी आज कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी का झंडा फहराकर कार्यक्रम की शुरुआत करेंगी.

राहुल गांधी गुवाहाटी में रैली को संबोधित करेंगे. दूसरी तरफ प्रियंका गांधी लखनऊ में कांग्रेस स्थापना दिवस समारोह में शामिल होंगी. इसके अलावा प्रियंका गांधी यूपी कांग्रेस के नेताओं के साथ भी बैठक करेंगी.

कांग्रेस के स्थापना दिवस के मौके पर प्रदेश में भी कई कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं. जयपुर में कांग्रेस आज फ्लैग मार्च निकाल रही है. सीएम गहलोत इस फ्लैग मार्च में शामिल हो रहे हैं. शहीद स्मारक से पीसीसी तक निकाले जाने वाले इस फ्लैग मार्च में प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे, पीसीसी चीफ सचिन पायलट समेत तमाम मंत्री और विधायक मौजूद हैं. भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को आज 134 साल पूरे हो गए हैं. 28 दिसंबर 1885 को बनी कांग्रेस पार्टी का आज स्थापना दिवस है. आइए जानते हैं देश की सत्ता पर सबसे लंबे समय तक काबिज रहने वाली कांग्रेस पार्टी का इतिहास?

कांग्रेस पार्टी की स्थापना अवकाश प्राप्त आईसीएस अधिकारी स्कॉटलैंड निवासी ऐलन ओक्टोवियन ह्यूम (एओ ह्यूम) ने थियोसोफिकल सोसायटी के मात्र 72 राजनीतिक कार्यकर्ताओं के सहयोग से की थी. इसमें सामाजिक कार्यकर्ता, पत्रकार और वकीलों का दल भी शामिल था. 28 दिसंबर 1885 को कांग्रेस का पहला चार दिवसीय अधिवेशन मुंबई (तब बॉम्बे) के गोकुलदास तेजपाल संस्कृत कॉलेज में हुआ था, जिसके अध्यक्ष तब के बैरिस्टर व्योमेश चंद्र बनर्जी थे. पार्टी का दूसरा अधिवेशन ठीक एक साल बाद 27 दिसंबर 1886 को कोलकाता में दादाभाई नैरोजी की अध्यक्षता में हुआ था

READ More...  SC में सुनवाई से पहले मुंबई में हलचल तेज, शरद पवार के घर पहुंचे बीजेपी सांसद

आचार्य कृपलानी थे पहले अध्यक्ष

इनमें महात्मा गांधी, मदन मोहन मालवीय, सुभाषचंद्र बोस, जवाहरलाल नेहरू जैसे दिग्गज नेता शामिल हैं. आजादी के बाद कांग्रेस के पहले अध्यक्ष आचार्य कृपलानी बने थे. आजाद भारत के पहले आम चुनाव में कांग्रेस ने जवाहर लाल नेहरू के दम पर चुनाव लड़ा और जबरदस्त जीत हासिल की थी. :