मोदी-शाह की गुमराह करने वाली राजनीति को झारखंड ने नकार दिया : गहलोत

0
60

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सोमवार को कहा कि नए रुझान बताते हैं कि पहले महाराष्ट्र और हरियाणा के बाद अब झारखंड ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह की गुमराह करने वाली राजनीति को नकार दिया है क्योंकि लोग उनकी विभाजनकारी राजनीति से तंग आ चुके हैं। नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) और नागरिकों के राष्ट्रीय रजिस्टर (एनआरसी) पर विरोध जताने के लिए कांग्रेस पार्टी सत्याग्रह कर रही है। इसी में भाग लेने के लिए राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने यह बात कही।

पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से गहलोत ने कहा, “महाराष्ट्र और हरियाणा चुनाव के दौरान पूरे देश में यह संदेश गया कि वे (मोदी व शाह) लोगों को राष्ट्रवाद, अनुच्छेद 370 के नाम पर गुमराह करते हैं। उनके अभियान का कोई एजेंडा नहीं है, जबकि राहुल गांधी आम नागरिकों के मुद्दों को उठाते हैं।”

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए राजस्थान के मुख्यमंत्री ने कहा कि चाहे वह महाराष्ट्र हो या हरियाणा, इन दोनों ही राज्यों ने उन्हें संदेश दिया कि उनका एजेंडा अब नहीं चलने वाला है।

उन्होंने कहा, “झारखंड के लोग दुखी थे और सभी को पता था कांग्रेस वहां जीतने जा रही है। उन्होंने झारखंड में अपने पूरे संसाधनों को इस्तेमाल किया लेकिन सोनिया गांधी का संदेश लोगों तक गया। यहां तक कि प्रधानमंत्री मोदी ने रामलीला मैदान से लोगों को गुमराह किया। लेकिन हमें झारखंड में स्पष्ट बहुमत मिला।”

READ More...  कांग्रेस ने एग्जिट पोल को खारिज किया, कहा-11 फरवरी को नतीजे चौंका देंगे