JLF-2020: सीएम गहलोत ने JLF का किया उद्घाटन, जयपुर में फिर सजी साहित्य की महफिल

0
133

जयपुर. राजधानी जयपुर (Jaipur) में एक बार फिर शब्दों की महफिल सज चुकी है. साहित्य के महाकुंभ जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल (Jaipur Literature Festival) की गुरुवार से शुरुआत हो गई है. सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने इसका विधिवत शुभारंभ ( inaugurated) किया. साहित्य के महाकुंभ जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल के 13वें संस्करण का आयोजन जयपुर के डिग्गी पैलेस (Diggy Palace) में किया जा रहा है.

500 से अधिक साहित्यकार और लेखक होंगे शामिल
फेस्टिवल में देश-विदेश के लगभग 500 से अधिक साहित्यकार, लेखक, विचार, राजनेता, अभिनेता, पत्रकार और सांस्कृतिक जगत की हस्तियां हिस्सा लेंगी. जेएलएफ-2020 में देश-दुनिया के जाने-माने शब्दों के जादूगर एक मंच साझा करते नजर आएंगे. पर्यावरण संरक्षण थीम पर आयोजित इस फेस्टिवल में गायिका शुभा मुद्गल और मार्कस डू तोय फेस्टिवल के की-नोट स्पीकर होंगे.

203 सत्र होंगे आयोजित

फेस्टिवल का हर कोना नई डिजाइनिंग थीम पर सजा हुआ है. यहां आर्ट एंड डिजाइन की क्रिएटीविटी देखने को मिल रही है. इस बार फेस्टिवल में कुल 203 सत्रों में लगभग 500 से अधिक वक्ता देश-विदेश के विभिन्न मुद्दों पर मंच साझा करेंगे. इस बार फेस्टिवल में खास तौर पर पर्यावरण संरक्षण पर विशेष जोर दिया जाएगा. इसके साथ ही अवॉर्ड विजेता कहानीकार और नॉवल प्राइज विनर्स भी शिरकत करेंगे. वे नोवल लिखने की कला की जानकारी देंगे. फेस्टिवल में लोगों को दुनियाभर के साहित्य, कला और संस्कृतिक से रू-ब-रू होने का मौका मिलेगा. वहीं देश-विदेश के ख्यातनाम साहित्यकार, लेखक और फिल्मी सितारों से मिलने का भी मौका होगा. फेस्टिवल की हर शाम संगीत के सराबोर रहेगी.

सीएम ने किया स्वागत
शुभारंभ के मौके पर सीएम अशोक गहलोत ने उपस्थित लोगों का स्वागत करते हुए कहा कि 13 साल पहले जब फेस्टिवल की शुरुआत हुई थी तब भी वे सीएम थे आज इसके 13वें संस्करण में भी मुख्य अतिथि हैं. इस बात की उन्हें खुशी है. सीएम ने कहा कि लोगों को साहित्य के महाकुंभ में बेसब्री से इंतजार रहता है

READ More...  कांस्टेबल ने 45 लाख रुपए रिश्वत मांगी, 5 लाख लेते रंगे हाथ गिरफ्तार