कोटा में महिला सर्वेयर को कॉलोनी के लोगों ने जबरन घेरा, EC का App करवाया डिलीट

0
106

कोटा : देशभर में सीएए (Citizenship Amendment Act) और एनआरसी (National Register of Citizens) काे लेकर फैली अफवाहों के बीच बुधवार को राजस्थान के कोटा शहर में देश की 7वीं आर्थिक गणना की एक महिला सर्वेयर के साथ अभद्रता और दुव्यवहार का मामला सामने आया है. आर्थिक गणना के दौरान महिला सर्वेयर नजरीन बानाे के साथ यह घटना तब हुई जब वह बोरखेड़ा थाना इलाके की एक अल्पसंख्यक बाहुल कॉलोनी में सर्वे करने पहुंचीं. यहां सीएए और एनआरसी को लेकर गलतफहमी में कुछ लोगों ने सर्वे के लिए जानकारी के लिए मना किया और फिर देखते ही देखते पूरी कॉलोनी के लोग इकट्‌ठा हो गए. इसी बीच कुछ लोगों ने नजरीन से जबरन मोबाइल छीना और उसमें से सर्वे का एप (CSC 7th Economic Census App) डिलीट कर दिया.

सर्वेयर टीम ने इसकी सूचना पर कोटा पुलिस दी. इसके बाद बोरखेड़ा थाना एसएचओ मौके पर पहुंचे. तब तक कॉलोनी के लोगों ने सर्वेयर को घेर रखा था. पुलिस ने बीच-बचाव कर सर्वेयर को वहां से पुलिस सुरक्षा में निकाला और मौके पर दुर्व्यवहार करते पाए गए युवक सदाहक अंसारी को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर लिया. इसके बाद सर्वेयर की ओर से घटनाक्रम की रिपोर्ट कोटा के बोरखेड़ा थाने में दर्ज कराई गई.

जानकारी के अनुसार आर्थिक गणना की सर्वेयर नजरीन बानो बृज धाम कॉलोनी में सर्वे करने पहुंची थीं. वहां पर उन्होंने कुछ परिवारों का आर्थिक गणना का डाटा भी एकत्र कर लिया था. इसके बाद वह वहां से निकल ही रही थी कि कुछ महिलाएं और पुरुष एकत्रित हो गए. जिन्होंने नजीरन बानो के साथ दुर्व्यवहार शुरू कर दिया.

सर्वेयर का डाटा डिलीट करवाया
सर्वेयर नजरीन ने बताया कि वहां उनका मोबाइल जबरन छीना गया और उस ऐप को ही डिलीट कर दिया, जिसके अंदर आर्थिक गणना का डाटा संग्रहित किया जा रहा था. साथ ही उनके साथ बदतमीजी भी की गई. नजीरन बानो का कहना है कि लोगों ने उसे घेर लिया. साथ ही उसके ऊपर हावी हो गए. और अभद्रता करते हुए हाथ मरोडकर मोबाइल फोन छीना. नया और पुराना सभी तरह का आर्थिक गणना का डाटा डिलिट मार दिया.

READ More...  29 जनवरी को होगा मतदान, तीसरे चरण के लिए आज से नामांकन : सरपंच चुनाव-2020