कोटा: सरकारी आदेश के बाद भी नहीं रुकी अधिकारियों की मनमानी, मनमर्जी से हो रहे डेपूटेशन

0
266

कोटा: चिकित्सा विभाग द्वारा कार्मिको के डेपूटेशन निरस्त करने के आदेश के बाद भी चिकित्सकों के डेपूटेशन का सिलसिला लगातार जारी है. अब ब्लॉक सीएमएचओ सुल्तानपुर द्वारा 11 फरवरी को एक चिकित्सक  डॉ श्याम बिहारी मालव को डेपुटेशन पर भांडाहेड़ा से सुल्तानपुर लगाने का मामला सामने आया है. यहां रोचक बात यह है कि इससे पहले सीएमएचओ ने 10 फरवरी को आदेश जारी करके डॉ श्याम बिहारी मालव का डेपूटेशन निरस्त किया था.

डॉ मालव को सुल्तानपुर से हटाकर वापस अपने मूल पदस्थापना की जगह भांडाहेड़ा लगाया था. लेकिन एक दिन बाद ही ब्लॉक सीएमएचओ सुल्तानपुर डॉ गिर्राज मीणा ने आदेशो की अवहेलना कर डॉ मालव को कार्यव्यवस्था का हवाला देते हुए डेपूटेशन पर भांडाहेड़ा से सुल्तानपुर लगा दिया.

बैकफुट पर आए बीसीएमओ
जब इस बारे में ब्लॉक सीएमएचओ डॉ गिर्राज मीणा से बात की तो पहले तो उन्होंने डेपूटेशन की बात से ही इनकार कर दिया. जब उन्ही के द्वारा किया गया डेपूटेशन का आदेश उनको दिखाया तो वो बैकफुट पर आ गए. डॉ गिर्राज मीणा ने कहा कि कार्य व्यवस्था के तहत डॉ श्याम बिहारी मालव को डेपूटेशन पर भांडाहेड़ा से सुल्तानपुर लगाया है. वहीं डॉ मालव का डेपूटेशन निरस्त कर उन्हें यथास्थान भाँडाहेड़ा लगा देंगे. डॉ गिर्राज ने थोड़ी देर में ही डॉ मालव के डेपूटेशन निरस्त करने के आदेश मोबाइल पर व्हाट्सएप कर दिए.

आदेश का नहीं दिख रहा असर
विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रोहित कुमार सिंह ने 4 फरवरी को आदेश जारी कर 7 अगस्त 2019 के बाद राज्य में संयुक्त निदेशक, जोन मुख्य चिकित्सा एंव अधिकारी, खण्ड मुख्य चिकित्सा एंव अधिकारियों द्वारा किए गए चिकित्सको के एक स्थान से दूसरे स्थान स्थानांतरण कार्य व्यवस्था के समस्त आदेश तुरन्त प्रभाव से निरस्त करने के आदेश जारी किए थे. आदेश में लिखा था कि भविष्य में राज्य सरकार के ऐसे प्रकरण ध्यान में आने पर सम्बंधित नियंत्रणाधिकारी के विरुद्ध कठोर कार्यवाही अमल में लाई जाएगी. वहीं, पीपल्दा से कोंग्रेस के वरिष्ठ विधायक रामनारायण मीणा ने विधानसभा में अतारांकित प्रश्न संख्या 776 में डेपुटेशन को लेकर सवाल लगाया था. उसके बाद भी चिकित्सा विभाग के आदेशों का असर नही दिख रहा। डेपूटेशन बदस्तूर जारी है.

READ More...  Video - 08 Nov. 2019: Demonetisation I 3 साल नोटबंदी | तारीफ में आज भी सरकार के पास आंकड़े नहीं

यह नियम विरुद्ध सीएमएचओ
सीएमएचओ डॉ बीएस तंवर ने कहा कि दो-तीन जगहों पर आदेशो की पालना नहीं की जा रही है. ये नियम विरुद्ध है. उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी. इनके खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए विभाग को भी लिखेंगे. जैसे उच्चाधिकारियों के निर्देश मिलेंगे, वैसे ही आगे की कार्रवाई करेंगे.