ओवरलोडिंग के खिलाफ परिवहन विभाग की बड़ी तैयारी, हाइवे के टोल प्लाजा से मिलेगा Data, कटेगा इ-चालान

0
114

उत्तर प्रदेश के नेशनल हाइवे और स्टेट हाइवे पर अब टोल प्लाजा पर माल वाहनों की ओवरलोडिंग भी चेक की जाएगी. यही नहीं मौके पर इ-चालान भी काटा जाएगा. दरअसल परिवहन विभाग यूपी के हाईवे पर टोल प्लाजा में लगे कांटे के डेटा का इस्तेमाल करना जा रहा है. विभाग का मानना है कि इस कवायद से सड़क पर दुर्घटनाओं में कमी आएगी. वहीं ओवरलोडिंग से खराब होने वाली सड़कों की समस्या में भी कमी आएगी.

प्रवर्तन दलों की संख्या कम होने की समस्या का निदान

दरअसल परिवहन विभाग इस व्यवस्था को तकनीक आधारित बनाने में जुटा है. कारण ये है कि विभाग के पास प्रवर्तन दलों की संख्या कम है, ऐसे में सघन रूप से जांच नहीं हो पा रही थी. यही कारण है कि अब तकनीक का सहारा लिया जा रहा है. बता दें यूपी में राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के 35 टोल प्लाजा हैं. इसके अलावा स्टेट हाइवे की बात करें तो इसके 5 और यूपी एक्सप्रेस वे विकास प्राधिकरण के 4 टोल प्लाजा पर वे-इन-मोशन ब्रिज लगे हुए हैं.

एनएचएआई भेजेगा डेटा, परिवहन विभाग काटेगा इ-चालान

एनएचएआई परिवहन विभाग को माल वाहनों का डेटा ऑनलाइन भेजेगा, इस पर वाहन में स्वीकृत वजन से अधिक वजन पाया गया तो इ-चालान वाहन स्वामी को भेज दिया जाएगा. इस संबंध में उत्तर प्रदेश शासन की तरफ से प्रदेश के सभी डीएम को निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं. ओवरलोडिंग के कारण चालान होने पर 20 हजार रुपए और हर टन पर 2 हजार रुपए का अतिरिक्त जुर्माना देना होगा.

परिवहन विभाग के अनुसार एनएचएआई के पूर्व और पश्चिमी महाप्रबंधकों के साथ ही सभी परियोजना निदेशकों को इस संबंध में निर्देश भेज दिए गए हैं.

READ More...  चीन : कोरोनावायरस से प्रभावित गरीब छात्रों को आर्थिक मदद की पेशकश