कारोबारी ने पत्नी और दो बच्चों समेत दे दी जान, कर्ज बना गले की फांस

0
32

पुलिस ने शनिवार को बताया कि जयपुर के राधिका विहार में रहने वाले आभूषण कारोबारी 45 साल के यशवंत ने व्यापार बढ़ाने के लिए ब्याज माफिआओं से कर्जा लिया था, लेकिन वह समय पर ब्याज नहीं चुका पा रहा था. उनकी धमकियों से परेशान होकर शुक्रवार रात किसी समय उसने अपनी पत्नी ममता और दो बच्चों भारत और अजीत सहित फांसी लगा ली.

राजस्थान की राजधानी जयपुर के कानोता थाना क्षेत्र में ब्याज माफियाओं से परेशान एक परिवार ने सामूहिक खुदकुशी कर ली. कर्ज को लेकर प्रताड़ना से त्रस्त होकर आभूषण कारोबारी ने परिवार सहित फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली.

पुलिस ने शनिवार को बताया कि जयपुर के राधिका विहार में रहने वाले आभूषण कारोबारी 45 साल के यशवंत ने व्यापार बढ़ाने के लिए ब्याज माफिआओं से कर्जा लिया था, लेकिन वह समय पर ब्याज नहीं चुका पा रहा था. उनकी धमकियों से परेशान होकर शुक्रवार रात किसी समय उसने अपनी पत्नी ममता और दो बच्चों भारत और अजीत सहित फांसी लगा ली.

एक समाचार एजेंसी के मुताबिक पुलिस ने बताया कि सुबह सूचना मिलने पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की. बताया जाता है कि इस संबंध में दो तीन लोगों को हिरासत में लिया गया है. फिलहाल पुलिस मौके पर मामले की तफ्तीश कर रही है.

हालांकि घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट मिला है या नहीं, पुलिस ने इसकी कोई जानकारी नहीं दी है. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है. प्राथमिक तौर पर यह मामला आत्महत्या से जुड़ा माना जा रहा है.

पुलिस ने बताया कि माता-पिता और दो बच्चों ने सामूहिक आत्महत्या की है. परिवार के इन सदस्यों ने फंदा लगाकर आत्महत्या की है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. जांच के लिए फॉरेंसिक टीम को भी बुलाया गया है. यह परिवार ज्वैलरी के कारोबार से जुड़ा हुआ था. बताया जा रहा है कि परिवार कर्ज से परेशान था.

READ More...  घनश्याम तिवारी और मानवेन्द्र की BJP में वापसी की सुगबुगाहट तेज! तैयार किया जा रहा है रोडमैप