लॉकडाउन तोड़ने से रोका तो निहंग सिखों ने पुलिस पर किया हमला, ASI का हाथ काटा

0
564

देश में कोरोना संकट से निपटने के लिए 21 दिनों का लॉकडाउन लागू है. इस लॉकडाउन का पालन करवाने के लिए देश के कोने-कोने में सुरक्षाकर्मियों की तैनाती भी की गई है. हालांकि लॉकडाउन के दौरान देश के कई हिस्सों से पुलिसकर्मियों पर हमला करने की घटनाएं भी सामने आई हैं. अब पंजाब में एक ASI का हाथ काट देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है.

एक तरफ जहां पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग को लेकर प्रशंसा हो रही है तो वहीं उनके अपने शहर पटियाला में आए दिन कुछ न कुछ नई घटना हो रही है. ऐसा ही एक मामला पटियाला की सब्जी मंडी में देखने को मिला.

पंजाब के पटियाला में बिना पास के मंडी के अंदर जाने से रोकने पर निहंग सिखों ने पुलिसकर्मियों पर तलवारों से हमला कर दिया, इस हमले में कई पुलिसवालों को जख्मी कर दिया गया और एक एएसआई का हाथ ही काटकर अलग कर दिया गया.

सिख) का एक समूह सफेद गाड़ी से मंडी आया. मंडी बोर्ड के अधिकारियों ने रविवार सुबह उन्हें गेट पर रोका और कर्फ्यू पास दिखाने के लिए कहा. हालांकि निहंगों ने बैरीकेड तोड़ दिए और लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए आगे बढ़ गए.

पुलिस ने बताया कि निहंगों के समूह ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया. इस दौरान एक एएसआई का हाथ काट दिया गया. वहीं तीन अन्य पुलिसकर्मी हमले में घायल भी हो गए. पुलिस ने बताया कि जब ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उनको रोकना चाहा तो निहंगों ने पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया. इस दौरान तलवार से एक एएसआई की बाजू काट डाली गई, जो कि शरीर से बिल्कुल अलग हो गई. वहीं पटियाला सदर थाने के एसएचओ को भी बाजू में चोट आई है.

READ More...  टूट सकता है करोड़ों फैंस का दिल! वर्ल्ड कप में भारत-पाकिस्तान के मैच पर खतरा,

गुरुद्वारे में छिपे

पटियाला एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू के मुताबिक हमले के बाद ये लोग वहां से भाग गए. पुलिस टीम ने जब इन लोगों का पीछा किया तो ये लोग बलवाड़ा के पास एक गुरुद्वारे में छिप गए. वहीं गुरुद्वारे से आरोपियों ने कथित तौर पर फायरिंग भी की और पुलिसवालों को वहां से चले जाने के लिए कहा.

हालांकि पुलिस आरोपियों से सरेंडर के लिए कह रही है. गुरुद्वारे के अंदर 40-50 हमलावर बताए जा रहे हैं. वहीं 5-6 लोग कर्फ्यू तोड़ने और तलवार से पुलिस पर हमला करने के आरोपी हैं. पटियाला एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि इन लोगों को जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा और कार्रवाई की जाएगी. वहीं घायल पुलिसकर्मियों को मेडिकल सुविधाएं उपलब्ध करवाई जा रही हैं.