जयपुर: लॉकडाउन तोड़ा तो होगी सख्त कार्रवाई, अब तक 5 हजार से ज्यादा लोग गिरफ्तार

0
211

जयपुर :  कोरोना के चलते पिछले 20 दिनों से प्रदेश पूरी तरह से लॉकडाउन है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देश पर सूबे में 22 मार्च से ही लॉकडाउन शुरू हो गया था जो 14 अप्रेल तक चलेगा. लेकिन वर्तमान स्थितियों के चलते इसके 30 अप्रेल तक बढ़ने की पूरी संभावना बनी हुई है. लॉकडाउन की अब तक की अवधि में राजस्थान पुलिस अब तक 5 हजार से ज्यादा लोगों को लॉकडाउन तोड़ने पर गिरफ्तार कर चुकी है. वहीं डीजीपी भूपेन्द्र सिंह ने साफ कर दिया है कि अगर लोगों ने लॉकडाउन का पालन नहीं किया तो सख्ती ओर बरती जाएगी.

लॉकडाउन का करें पालन
डीजीपी भूपेन्द्र सिंह ने लोगों से अपील की है कि वे पूरी तरह से लॉकडाउन का पालन करें. बहुत जरूरी होने पर प्रशासन द्वारा जारी पास से ही यात्रा करें क्योंकि बिना अनुमति के पकड़े जाने पर पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी. उन्होंने बताया कि अब तक पुलिस प्रदेशभर में लॉकडाउन का उल्लंखन करने पर 5 हजार से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है. वहीं आगे भी यह कार्रवाई जारी रहेगी.

संक्रमण फैलाने पर होगी एफआईआर
डीजीपी ने साफ किया है कि अगर कोई व्यक्ति संक्रमित है और वो संक्रमण फैलाने की कोशिश करता है या क्वारंटाइन को बीच में छोड़कर कहीं चला जाता है तो ऐसे लोगों के खिलाफ पुलिस एफआईआर भी दर्ज करेगी. उन्होंने बताया कि बाड़मेर और उसके आसपास के क्षेत्र में पुलिस ने ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करना भी शुरू कर दिया है.

कांस्टेबल के पॉजिटिव आने पर बढ़ी चिंता
कोरोना वायरस और आमजन के बीच ढाल बनकर खड़ी राजस्थान पुलिस के कांस्टेबल के पॉजिटिव आने से पूरे पुलिस महकमे में चिंता बढ़ गई है. शुक्रवार को माणक चौक थाने के एक कांस्टेबल की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी जिसके बाद उसे आइसोलेशन में रखा गया. वहीं उसके सम्पर्क में आने वाले दर्जनभर लोगों को क्वारंटाइन किया गया है. इस घटना के बाद डीजीपी ने निर्देश जारी करके पुलिस की पर्सनल प्रोटेक्शन को रिव्यू करने के निर्देश दिए है.

READ More...  185 देशों में संक्रमण और 11417 मौतें: अमेरिकी उपराष्ट्रपति पेंस का स्टाफर संक्रमित, इटली में मरने वालों की संख्या 4 हजार पार