अब तक 415 केस और 7 मौतें; महाराष्ट्र में 24 घंटे में 15 नए केस, मोदी की दोबारा अपील- लोग लॉकडाउन का गंभीरता से पालन करें

0
1921

नई दिल्ली: देश में कोरोनावायरस के संक्रमण के अब तक 415 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि 7 लोगों की मौत हुई। महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 15 नए मामले सामने आए।  इनमें 14 मुंबई और 1 पुणे में मिला है। अब यहां कुल केस 89 हो गए हैं। महाराष्ट्र स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक, राज्य में संक्रमण से ठीक हुए फिलीपींस के एक 68 वर्षीय नागरिक की किडनी फेल होने से मौत हो गई। इससे पहले जांच में यह व्यक्ति निगेटिव पाया गया था। उसे रविवार को कस्तूरबा अस्पताल से एक निजी अस्पताल में शिफ्ट किया गया था, जहां उसने दम तोड़ दिया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को एक बार फिर लॉकडाउन को गंभीरता से लेने की अपील की है। गुरुवार को राष्ट्र के नाम संदेश में उन्होंने देशभर में 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगाने को कहा था।

संक्रमण के खतरे की वजह से 22 राज्यों के 75 जिले 31 मार्च तक लॉकडाउन हैं। इसके बावजूद कई शहरों में लोग रविवार देर रात और सोमवार सुबह लॉकडाउन का उल्लंघन करते नजर आए। इसे देखते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने सोमवार को लोगों से सरकार के निर्देशों का पालन करने की दोबारा अपील की। उन्होंने ट्वीट कर कहा- लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं। इससे पहले रविवार को भी उन्होंने लॉकडाउन किए गए शहरों के लोगों को घरों से बाहर न निकलने के लिए कहा था।

इंडियन काउंसिल फॉर मेडिकल रिसर्च (आईसीएमआर) के मुताबिक, रविवार को सबसे ज्यादा 81 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई, यह एक दिन में सर्वाधिक है। इससे पहले शनिवार को 79 नए मामले सामने आए थे। कोरोना संक्रमण देश के 23 राज्यों में पहुंच चुका है। सबसे ज्यादा 89 मामले महाराष्ट्र और उसके बाद केरल में 67 संक्रमित मिले हैं। कोरोना के 90% मरीज अस्पताल में भर्ती हैं, सिर्फ 7% मामलों में रिकवरी हुई है। देश धीरे-धीरे लॉकडाउन की तरफ बढ़ रहा है।

अपडेट्स

  • केंद्र सरकार ने राज्य सरकारों को निर्देश दिया है कि लॉकडाउन घोषित स्थानों पर इसका कड़ाई से पालन कराएं। इसका उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।
  • लखनऊ के घंटाघर के पास नागरिकता संशोधन के खिलाफ चल रहा प्रदर्शन खत्म किया गया। इसके बाद सरकारी कर्मचारियों ने पूरे इलाके को सैनिटाइज किया।
  • कानपुर में 25 मार्च तक लॉकडाउन की घोषणा की गई है। हालांकि, सोमवार सुबह सब्जियों की दुकान पर लोगों की भीड़ नजर आई। लोगों का कहना था सब्जी खाने का जरूरी सामान है, लेकिन इनकी कीमतें बढ़ गई हैं।
  • अंतरराष्ट्रीय उड़ानों के लिए इस्तेमाल होने वाले दिल्ली के आईजीआई एयरपोर्ट के टर्मिनल संख्या 3 को 29 मार्च तक बंद किया गया।
  • पुणे पुलिस ने कहा है कि शहर में 31 मार्च तक कर्फ्यू जारी रहेगा। जरूरी सेवाओं को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेंगे। इस दौरान घर से निकलने वाले लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।
  • आंध प्रदेश राज्य परिवहन निगम बस की सेवाएं 31 मार्च तक रोक दी गई हैं। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री परनी वेंकटरामैया ने ऑटो और टेम्पो नहीं चलाने की अपील की है। अन्य वाहनों की गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी।
  • कैब एग्रिगेटर कंपनी ओला ने कहा है कि हम सरकार के निर्देश के मुताबिक लोगों को कम यात्रा करने के लिए बढ़ावा देंगें। कंपनी सिर्फ जरूरी सेवाओं के लिए गाड़ियां चलाएगी। हमारे नेटवर्क पर कम से कम गाड़ियां उपलब्ध होंगी।
  • कर्नाटक के स्वास्थ्य मंत्री बी श्रीरामुलु ने कहा कि हर जिले में कोविड-19 के इलाज के लिए एक अस्पताल तय किया गया है। हमने 1000 वेंटिलेटर के ऑर्डर दिए हैं। राज्य में संक्रमण के अब तक 27 मामले सामने आ चुके हैं।
  • ओडिशा में होम क्वारैंटाइन नियमों का पालन नहीं करने पर 4 लोगों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज किए गए।
READ More...  'अनपढ़ों' के हाथ में 'गांव की सरकार', 35 फीसदी सरपंच लिख सकते हैं सिर्फ अपना नाम

महाराष्ट्र में स्थिति गंभीर 
महाराष्ट्र में संक्रमण की स्थिति गंभीर है। रविवार को राज्य में कोरोना पॉजिटिव मिले 10 लोगों में से 5 में स्थानीय स्तर पर संक्रमण हुआ, जबकि 5 विदेश से लौटे थे। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने माना कि स्थानीय स्तर पर संक्रमण बढ़ना निश्चित तौर पर चिंता की बात है। राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज, जिम और स्वीमिंग पूल बंद कर दिए गए हैं। निजी क्लासेस, परीक्षाएं टालने का भी आदेश दिया गया है। सरकार ने किसी भी तरह के धार्मिक या सामाजिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी है। राज्य के कई मंदिरों को भक्तों के लिए बंद कर दिया गया है। हाईकोर्ट में सिर्फ 2 घंटे और जिला अदालतों में 3 घंटे ही काम होगा। पुणे में सबसे ज्यादा मरीज मिलने के बाद अब यहां के शनिवारवाड़ा किले को भी अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया है। महाराष्ट्र में आइसोलेशन में रखे गए मरीजों के बाएं हाथ पर मुहर लगाई जा रही है।

राजस्थान भीलवाड़ा में 27 मार्च तक 30 लाख लोगों की जांच होगी
भीलवाड़ा में कोरोना चेन बनी है। यहां एक संक्रमित डॉक्टर के जरिए 13 लोगों में संक्रमण फैला। फिर 6 हजार लोगों की स्क्रीनिंग करानी पड़ी। शनिवार को बांगड़ हॉस्पिटल के 5 और नर्सिंगकर्मी पॉजिटिव मिले। शुक्रवार को भी इसी अस्पताल के 3 डॉक्टर समेत 6 लोग पीड़ित पाए गए थे। अब भीलवाड़ा जिले को आइसोलेट करने के साथ पूरी 30 लाख की आबादी का सर्वे कर स्क्रीनिंग शुरू कर दी गई है। कलेक्टर राजेंद्र भट्ट ने बताया कि भीलवाड़ा शहर में 300 टीमों ने 2 दिन में 40 हजार से ज्यादा परिवारों का सर्वे किया है। 27 मार्च तक जिले की स्क्रीनिंग कर ली जाएगी। अभी 722 लोग सामान्य खांसी-जुकाम से पीड़ित पाए गए हैं। 32 ऐसे लोगों का पता भी चला है जो हाल ही में विदेश से लौटे हैं या किसी विदेशी के संपर्क में आए हैं।