15 नए मेडिकल कॉलेजों को शीघ्र धरातल पर उतारने की तैयारी, मंत्री ने दिए ये निर्देश

0
142

जयपुर : चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग (Medical and Health Department) ने प्रदेश के लिए स्वीकृत 15 नए मेडिकल कॉलेजों (Medical colleges) को शीघ्र धरातल पर उतारने की तैयारी शुरू कर दी है. इसके लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा (Dr. Raghu Sharma) ने सचिवालय में विभाग के अधिकारियों व देशभर की सरकारी और 14 बड़ी निजी कंपनियों के प्रजेंटेशन (Presentation) देखे. सचिवालय में गुरुवार को हुई बैठक में चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया और वित्त विभाग के सचिव हेमंत गेरा सहित कई अधिकारी उपस्थित रहे.

जल संरक्षण, सौर उर्जा और ग्रीन बिल्डिंग कॉन्सेप्ट का विशेष ध्यान रखें
बैठक में चिकित्सा मंत्री ने तय समय सीमा में गुणवत्तायुक्त निर्माण कार्य करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि प्रदेश में चिकित्सा शिक्षा को बढ़ावा देने में ये मेडिकल कॉलेज अहम भूमिका निभाएंगे. ऐसे में सभी कॉलेज समय पर बनें. इनकी गुणवत्ता में किसी भी प्रकार का समझौता बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. चिकित्सा मंत्री ने कहा कि सभी बिल्डिंग में जल संरक्षण, सौर उर्जा और ग्रीन बिल्डिंग कॉन्सेप्ट का विशेष ध्यान रखा जाए. साथ ही ये आज के दौर की सभी सुविधाओं से सुसिज्जत होने चाहिए. उन्होंने कहा कि उन्हीं कंपनियों को मौका दिया जाएगा जिन्होंने पूर्व में मेडिकल कॉलजों का निर्माण समयबद्ध और गुणवत्तापूर्ण तरीके से किया है.

मेडिकल कॉलेजों की संख्या में अच्छी खासी वृद्धि

उल्लेखनीय है कि प्रदेश में गत वर्षों में सरकारी मेडिकल कॉलेजों की संख्या में अच्छी खासी वृद्धि हुई है. संभाग मुख्यालयों के अलावा अब बड़े जिला मुख्यालयों पर भी मेडिकल कॉलेज खुल चुके हैं. अन्य जिलों में मेडिकल कॉलेजों का काम चल रहा है. इससे चिकित्सा सुविधा में विस्तार होने के साथ ही प्रदेश में मेडिकल की सीटों में जबर्दस्त बढ़ोतरी हुई है. पहले बड़ी संख्या में प्रदेश के छात्रों को मेडिकल करने के लिए दूसरे राज्यों में जाना पड़ता था, लेकिन अब ज्यादा से ज्यादा मेडिकल स्टूडेंट्स को यहीं पर यह सुविधा मिलने लगी है.

READ More...  Rahul Gandhi की रैली पर BJP का निशाना, सरकारी कर्मचारियों से जुटाई जा रही भीड़