पूरे उत्तर भारत में ठंड का कहर, मौसम विभाग ने 6 राज्‍यों के लिए जारी की ‘रेड वॉर्निंग’

0
167
उत्तर भारत (North India) के कई हिस्सों में हाड़ कंपा देने वाली कड़ाके की ठंड पड़ रही है. राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली, उत्तर प्रदेश और बिहार (Bihar) समेत कई राज्यों में लोगों का ठंड के कारण घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया है. यूपी के कई जिलों में सरकारी और गैरसरकारी स्कूलों को कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया गया है. साथ ही घने कोहरे के चलते हवाई, रेल और सड़क यातायात भी प्रभावित हुआ है. वहीं, दिल्ली के सफदरजंग में रविवार सुबह 7 बजे का तापमान 3.6 डिग्री रिकॉर्ड किया गया, जबकि अधिकतम तापमान 13 डिग्री के आसपास रहने का अनुमान जताया गया है. इस बीच, मौसम विभाग ने रविवार को लेकर पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और बिहार के लिए ‘रेड वॉर्निंग’ जारी की है. मौसम विभाग ने मौसम के अत्यंत खराब होने का पूर्वानुमान जताया गया है. दूसरी तरफ, मध्य प्रदेश के लिए येलो वॉर्निंग जारी की गई है.
मौसम विभाग के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ क्षेत्रों में शनिवार को तापमान दो डिग्री सेल्सियस से भी नीचे चला गया था.  लोधी रोड में यह 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था.  दिल्ली में ठंड ने 118 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया था. मौसम विभाग का कहना था कि शनिवार सुबह 8.30 बजे दिल्ली के लोधी रोड इलाके में तापमान अभी तक का सबसे कम 1.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. वहीं, सफदरजंग एन्क्लेव में 2.4, पालम में 3.1 और आया नगर 1.9 डिग्री तापमान था.

कई ट्रेनें हुईं देर
जानकारी के मुताबिक, दिल्ली में चार उड़ानों को दिल्ली हवाईअड्डे से अन्य स्थानों की ओर मोड़ना पड़ा है. रनवे पर दृश्यता रेंज (आरवीआर) 50 से 175 मीटर के बीच रही. वहीं, रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि खराब दृश्यता के चलते हावड़ा- नई दिल्ली पूर्वा एक्सप्रेस सहित 24 ट्रेनें दो से पांच घंटे विलंब से चल रही हैं.
कोहरे के चलते एक्सीडेंट
हरियाणा के रेवाड़ी में दिल्ली- जयपुर राजमार्ग पर घने कोहरे के चलते 15 वाहनों के एक-दूसरे से टकरा जाने से दो व्यक्तियों की मौत हो गई और 12 अन्य घायल हो गए. हरियाणा और पंजाब में कई स्थानों पर न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच से सात डिग्री नीचे दर्ज किया गया. हिसार दोनों राज्यों में सबसे ठंडा स्थान रहा. यहां न्यूनतम तापमान 0.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. उत्तर प्रदेश के कई स्थानों पर लोग ठंड से ठिठुर गए, क्योंकि पारे में दो डिग्री सेल्सियस तक की कमी दर्ज की गई. मुजफ्फरनगर राज्य में सबसे ठंडा स्थान रहा जहां का न्‍यूनतम तापमान 1.7 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया. वहीं, अलीगढ़ में 1.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.
सोलन में पारा जमाव बिंदु से नीचे दर्ज किया गया

पर्वतीय राज्य हिमाचल प्रदेश में कुफरी, मनाली, सोलन में पारा जमाव बिंदु से नीचे दर्ज किया गया. राज्य में दिन का सबसे कम तापमान केलांग में शून्य से 11.5 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. 31 दिसंबर से दो जनवरी के बीच मध्यम ऊंचाई और ऊंचाई वाले पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी होने की संभावना है.

READ More...  घरडा़ना खुर्द की बहू का सीनियर साइंटिस्ट के पद पर चयन, गांव ही नहीं झुंझुनू जिले का किया नाम रोशन

राजस्थान में सीकर जिले में फतेहपुर में सबसे कम तापमान दर्ज किया गया जहां यह शून्य से चार डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज किया गया. सीकर और माउंट आबू में तापमान क्रमश: शून्य से नीचे एक डिग्री सेल्सियस और शून्य से नीचे 1.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि जयपुर में अगले 24 घंटे तक शीतलहर जारी रहने की उम्मीद है.