पालघर में साधुओं की लिंचिंग का आरोपी पाया गया कोरोना पॉजिटिव, 23 पुलिसकर्मियों समेत 43 लोग क्वारंटीन

0
417

पालघर : महाराष्ट्र (Maharashtra) स्थित पालघर लिंचिंग (Palghar Lynching) मामले का एक आरोपी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. वह बीते दिनों वाडा पुलिस स्टेशन में बंद था. आरोपी को पहले पालघर ग्रामीण अस्पताल के एक आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था और अब उसे जेजे अस्पताल के कैदी वार्ड में स्थानांतरित किया जा रहा है.

ऐसा माना जा रहा है कि आरोपी लॉकअप में ही संक्रमण का शिकार हुआ जहां लगभग 20 अन्य अभियुक्तों को उसके साथ एक ही सेल में रखा गया था. बताया गया कि उसके संपर्क में आए 20 आरोपियों और 23 पुलिस कर्मचारियों को क्वारंटीन किया गया है और सबकी सैंपलिंग की जा रही है.

घटना 16 अप्रैल को गढ़चिंचले गांव में हुई
बता दें कि पालघर में भीड़ द्वारा दो साधुओं समेत तीन लोगों की हत्या के संबंध में महाराष्ट्र पुलिस के अपराध जांच विभाग (सीआईडी) ने पांच और व्यक्तियों को गिरफ्तार किया है. एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि इन पांच व्यक्तियों को मिलाकर मामले के संबंध में अब तक 115 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है जिनमें से नौ नाबालिग हैं.
घटना 16 अप्रैल को गढ़चिंचले गांव में हुई थी जब दो साधु ड्राइवर के साथ किसी की अंत्येष्टि में शामिल होने मुंबई से सूरत एक कार में जा रहे थे. ग्रामीणों की एक भीड़ ने उन्हें रोक कर चोर होने के शक में पीट-पीट कर मार डाला.

अधिकारी ने बताया कि कुछ आरोपी बाद में घने जंगल में भाग गए थे जिन्हें पुलिस ने ड्रोन की सहायता की खोज निकाला. गिरफ्तार किए गए पांच आरोपियों को शुक्रवार को अदालत में पेश किया गया जहां उन्हें 13 मई तक सीआईडी हिरासत में भेज दिया गया. अधिकारी ने कहा कि आगे की जांच जारी है.

READ More...  उन्नाव रेप पीड़िता ने सफदरजंग हॉस्पिटल में तोड़ा दम, कोर्ट के रास्ते में जला दी गई थी जिंदा