4 मरीजों के संक्रमित होने पर जबलपुर और सिवनी जिले दो दिन के लिए लॉकडाउन

0
235

भोपाल/जबलपुर/शिवपुरी/भिंड: जबलपुर में कोरोना के चार संक्रमित मरीज मिलने के बाद जिले को दो दिन के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। शनिवार को दोपहर 12 बजे से सोमवार को सुबह 6 बजे तक के लिए लाॅकडाउन कर दिया गया है। जबलपुर संभाग के ही एक अन्य जिले सिवनी को भी लॉकडाउन किया गया है। जबलपुर से लौटे सराफा कारोबारी मुकेश अग्रवाल पर लार्डगंज थाने में केस दर्ज कराया गया है। उन पर शहर वासियों की जान जोखिम में डालने और दुबई से लौटने के बाद जिला प्रशासन से जानकारी छिपाने के आरोप हैं। मुकेश की वजह से ही उसके परिवार के दो लोगों को कोरोना पॉजिटिव मिला है।

शनिवार और रविवार को जबलपुर और सिवनी के जिलों में सब कुछ बंद रखने के साथ ही सीमाओं को सील कर दिया गया है। कोई भी घर से बाहर नहीं निकलेगा और किसी को भी जिले में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। वहीं, सतना में यूपी से लगी सीमा को सील किया कर दिया गया है। अब यहां पर उन्हीं लोगों को प्रवेश दिया जाएगा, जो सतना जिले के मूल निवासी हैं। वहीं भोपाल में भी लॉकडाउन जैसी स्थिति है। यहां पर मॉल्स में जरूरी चीजों की खरीदारी करने के लिए 50 लोगों से ज्यादा की एंट्री पर बैन लगा दिया गया है। सभी की स्क्रीनिंग के साथ ही टोकन देकर ही अंदर घुसने दिया जा रहा है।

शुक्रवार को दुबई से लौटे शहर के एक सराफा व्यापारी के परिवार के तीन लोग कोरोना संक्रमित पाए गए। इसके अलावा चौथा मरीज सिविल लाइन का है जो स्विटजरलैंड से आया है। वहीं, 18 मार्च को दुबई से लौटे शिवपुरी के दीपक शर्मा की भी स्क्रीनिंग कराई गई। दीपक को हल्की सर्दी व खांसी की शिकायत है। उसे आइसोलेशन में रखा गया है। इसके बाद से जबलपुर में पुलिस और प्रशासन अलर्ट मोड में है। उन लोगों की सूची बनाई जा रही है, जिनके संपर्क में ये मरीज रहे हैं। जबलपुर में शुक्रवार को चार मरीजों के कोरोना पॉजीटिव पाए जाना प्रदेश का पहला मामला है। सभी मरीजों को गुरुवार से मेडिकल कॉलेज अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में रखा गया था।

READ More...  IND vs WI: जब मैदान पर दिखा 'सुपरमैन', लुईस की फील्डिंग देखकर सब रह गए हैरान

जिनके संपर्क में मरीज आए, उनकी जांच शुरू

जबलपुर में एक साथ 4 मरीज मिलने के बाद प्रशासन, पुलिस व स्वास्थ्य विभाग की टीम उन लोगों की खोजबीन करने में जुट गई, संक्रमित मरीज शहर पहुंचने के बाद रिपोर्ट आने तक जिन लोगों के संपर्क में आए थे। बताया जाता है कि आभूषण कारोबारी के प्रतिष्ठानों में कर्मचारियों की संख्या करीब डेढ़ सौ है। घर में भी कई सदस्य एक साथ निवास करते हैं। रोजाना सैकड़ों ग्राहकों का आना-जाना रहता है। ट्रेन के जिस डिब्बे में उन्होंने यात्रा की थी, उसमें सवार अन्य यात्रियों की जानकारी लेकर उन्हें भी ट्रेस करने का प्रयास किया जा रहा है। वे जिन शहरों के निवासी हैं वहां प्रशासन को जानकारी देकर उन्हें भी आइसोलेट कराया जाएगा।

आज से मंगलवार तक बंद रहेगा सराफा बाजार 
सराफा व्यापारी का परिवार कोरोना संक्रमित होने की खबर मिलते ही सराफा एसोसिएशन की आवश्यक बैठक हुई। एसोसिएशन के अध्यक्ष आनंद मोहन पाठक ने बताया कि बैठक में यह निर्णय लिया गया है कि तात्कालिक रूप से शनिवार से लेकर मंगलवार तक सराफा बाजार पूर्णत: बंद रहेगा। सभी सराफा व्यापारियों से उन्होंने आग्रह किया है कि अपनी-अपनी दुकानें बंद कर सहयोग प्रदान करें। जिस आभूषण कारोबारी के परिवार के 3 सदस्य कोरोना वायरस की चपेट में मिले हैं, वहां कार्यरत 17 कर्मचारियों को देर रात विक्टोरिया अस्पताल में आइसोलेट कराया गया। कोरोना संक्रमण की पुष्टि होने के बाद पुलिस अलर्ट मोड में आ गई। जिला अस्पताल, मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पुलिस बल तैनात कर दिया गया। रात में पुलिस अधीक्षक अमित सिंह बल के साथ शहर भ्रमण पर निकले और तीन पत्ती चौक से गोहलपुर तक व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को बंद कराया