PM जॉनसन बोले- ब्रिटेन में भारत विरोधी माहौल की कोई गुंजाइश नहीं

0
223

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन शनिवार को लंदन में स्वामी नारायण मंदिर पहुंचे. शनिवार को ही स्वामी नारायण संप्रदाय के प्रमुख स्वामी महाराज का 98वां जन्मदिन था. इस मौके पर प्रधानमंत्री जॉनसन ने कहा, ‘इस देश (ब्रिटेन) में नस्लवाद या भारत विरोधी माहौल की कोई गुंजाइश नहीं है.’ प्रधानमंत्री जॉनसन ने ‘हिंदू विरोधी’ और ‘भारत विरोधी’ भावनाओं का भी जिक्र किया और इस पर चिंता जाहिर की.

‘एक खास इंटरव्यू में प्रधानमंत्री जॉनसन ने कहा, ‘हम ब्रितानी भारतीय समुदाय की हर हाल में हिफाजत करेंगे. दुनिया में आपसी विवाद से जिस प्रकार के भेदभाव, चिंताएं और पूर्वाग्रह पनपते हैं, हम उसे इस देश में नहीं घुसने देंगे.’ प्रधानमंत्री जॉनसन ने ब्रिटेन की 6.5 फीसदी जीडीपी में भारतीय समुदाय की भागीदारी का जिक्र किया और बताया कि इसमें 2 फीसदी योगदान भारतवंशियों का है.

ब्रिटेन की जीडीपी में और मजबूती लाने के लिए जॉनसन ने कहा कि उनकी सरकार वीजा नियमों में भेदभाव खत्म करेगी जिसमें यूरोपियन यूनियन (ईयू) को खास तवज्जो दी जाती है. ईयू सिस्टम की जगह ब्रिटेन में साल 2021 तक ऑस्ट्रेलिया की तरह प्वाइंट आधारित इमीग्रेशन सिस्टम लागू किया जाएगा.

जॉनसन ने कहा, ”हम सबके लिए एक समान इमीग्रेशन नियम लागू करेंगे. चाहे लोग ईयू से आएं या कहीं और से. भारत के डॉक्टर, नर्स और हेल्थ प्रोफेशनल के लिए ‘स्पेशल फास्ट ट्रैक वीजा’ शुरू करने की योजना है ताकि लोगों को दो हफ्ते के अंदर वीजा मिल जाए.”

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपने मधुर संबंधों का जिक्र करते हुए जॉनसन ने कहा, ‘हम जानते हैं पीएम मोदी एक नया भारत बना रहे हैं और ब्रिटेन में इसके लिए जिस कोशिश की जरूरत पड़ेगी, हम उसमें मदद करेंगे.’ जॉनसन ने यह भी कहा कि अगर वे बहुमत से जीतते हैं तो जल्द से जल्द भारत का दौरा करेंगे ताकि भारत से संबंधों को ज्यादा मजबूती दी जा सके.

READ More...  Indian Railway ने शुरू की नई सर्विस! चार्ट बनने के बाद भी मिल सकती है कन्फर्म सीट

ब्रिटेन में 12 दिसंबर को आम चुनाव है जो ब्रेग्जिट मुद्दे पर कराया जा रहा है. प्रधानमंत्री जॉनसन का एकसूत्री एजेंडा है कि अगर वे चुनाव में विजयी होते हैं तो इससे ब्रिटेन को ‘घबराबट, देरी और गतिरोध’ के माहौल से पूरी तरह निजात दिलाएंगे. जॉनसन ने कहा, ”31 जनवरी को ब्रेग्जिट पूरा हो जाएगा. इसके बाद हम ब्रिटेन आने वाले हर इंसान के बीच समानता और निष्पक्षता लाएंगे. भारत या अन्य किसी भी उपमहाद्वीप से ब्रिटेन आने वाले लोगों के लिए यहां भेदभाव की कोई जगह नहीं बचेगी’.”

प्रधानमंत्री जॉनसन स्वामी नारायण मंदिर में अपनी पार्टनर कैरी सिमोंड के साथ गए थे. सिमोंड इस मौके पर गुलाबी साड़ी में दिखीं. उनके साथ गृह सचिव प्रीति पटेल भी थीं. मंदिर में दर्शन के वक्त प्रधानमंत्री जॉनसन के साथ भारतीय समुदाय के लॉर्ड्स और सांसद भी थे जिनमें बॉब ब्लैकमैन, लॉर्ड पोपट, लॉर्ड रंगेर और शैलेष वारा के नाम शामिल हैं.