अध्यक्ष पद से सचिन पायलट को हटाए जाने के बाद अब उपद्रव की आशंका, पुलिस अलर्ट

0
59

जयपुर. राजस्थान (Rajasthan) के उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष पद से सचिन पायलट (Sachin Pilot) को हटाए जाने के बाद पुलिस (Police) ने कानून व्यवस्था के लिहाज से संवेदनशील इलाकों में चौकसी बढ़ा दी है. पायलट के साथ ही प्रदेश के मंत्री पद से रमेश मीणा और विश्वेंद्र सिंह को भी हटा दिया गया है. ऐसे में पुलिस मुख्यालय ने कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए तीन डीआईजी और चार एडिशनल एसपी सहित अतिरिक्त फोर्स को तैनात किया है. यह अधिकारी संवेदनशील क्षेत्रों में निगरानी रखेंगे और जरूरत पड़ने पर जिला पुलिस अधीक्षक के साथ समन्वय कर कानून व्यवस्था बनाए रखने में हर संभव प्रयास करेंगे. ऐसे इलाकों में अलर्ट जारी कर दिया गया है.

इन अधिकारियों के अलावा संवेदनशील क्षेत्रों में आरएसी कंपनियों के अलावा दो हजार ओंकार के भी जवान तैनात किए गए हैं. एडीजी सौरभ श्रीवास्तव ने बताया कि हर रेंज आईजी और जिला एसपी को पूर्ण सावधानी बरतने के लिए आदेश दिए गए हैं. हर जिला पुलिस अधीक्षक को यह निर्देश दिए गए हैं कि कहीं भी यदि कोई उपद्रव करता है तो उसके खिलाफ तुरंत सख्त कानूनी कार्रवाई करें और किसी भी सूरत में कानून व्यवस्था को नहीं बिगड़ने दें.

कानून व्यवस्था को बनाए रखने की कवायद

एडीजी श्रीवास्तव का कहना है कि पुलिस का प्रयास है कि किसी भी हालत में कानून व्यवस्था नहीं बिगड़े. इसके लिए अतिरिक्त जाब्ते के साथ साथ तकनीक का भी उपयोग किया जाएगा संवेदनशील इलाकों में ड्रोन के मार्फत से निगरानी रखी जाएगी तो वही पुलिस मुख्यालय में बने सेंट्रल अभय कमांड सेंटर से भी पूरे प्रदेश भर में कानून व्यवस्था पर नजर रखी जाएगी. किसी भी प्रकार पर ही हिंसा या उपद्रव करने वालों में सख्त कार्रवाई की तैयारी की गई है. राजस्थान में सियासी संकट के बीच पुलिस अलर्ट मोड पर है.

READ More...  पंचायत चुनाव के लिए ड्यूटी पर जा रहे मतदान कर्मी की तबीयत बिगड़ने से हुई मौत : पंचायत चुनाव 2020