राहुल- ताली-थाली से जरूरी है सुरक्षा, सरकार के पास नहीं कोरोना वॉरियर्स का डाटा

0
23

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र की मोदी सरकार द्वारा कोरोना के चलते मारे और संक्रमित हुए हेल्थ केयर स्टाफ की जानकारी ना होने की बात पर निशाना साधा है. राहुल ने कहा कि ‘थाली बजाने, दिया जलाने से ज्यादा जरूरी है उनकी सुरक्षा और सम्मान.’ बता दें स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने एक बयान में कहा कि जन स्वास्थ्य एवं अस्पताल राज्यों के तहत आते हैं. इसलिए केंद्र के पास बीमा मुआवजा डेटा उपलब्ध नहीं है.

सरकार के इस बयान पर वायनाड सांसद राहुल ने अपने ट्वीट में कहा कि- ‘प्रतिकूल डाटा-मुक्त मोदी सरकार! थाली बजाने, दिया जलाने से ज़्यादा ज़रूरी हैं उनकी सुरक्षा और सम्मान. मोदी सरकार, कोरोना वॉरियर्स का इतना अपमान क्यों?’

वहीं आईएमए ने कोविड-19 के कारण जान गंवाने वाले स्वास्थ्य सेवा कर्मियों की मौत का स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन द्वारा संसद में जिक्र नहीं करने पर आपत्ति जताई और पूरी सूची जारी की. आईएमए ने 382 डॉक्टरों की बुधवार को सूची प्रकाशित की और उन्हें ‘शहीद’ का दर्जा दिए जाने की मांग की. डॉक्टरों  के निकाय ने कहा कि यह ‘‘हमारे लोगों के लिए खड़े होने वाले राष्ट्रीय नायकों को त्यागने और कर्तव्य से पीछे हटने’’ के समान है.

शहीद का दर्जा दिया जाए- IMA

आईएमए के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 16 सितंबर को आईएमए कोविड-19 डेटा के अनुसार, बीमारी से अब तक 2,238 चिकित्सक संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से 382 की मौत हो चुकी है. इसने कहा, ‘हम मांग करते हैं कि उन्हें शहीद का दर्जा दिया जाए’.

बता दें शुक्रवार तक देश में कोरोना के कुल 52 लाख मामले थे. गुरुवार से शुक्रवार के दौरान 95,424 नये मामले दर्ज किए गए और 1174 लोगों की मौत हुई. फिलहाल देश में 52,14,678 मामले हैं जिसमें से 10, 17, 754 केस एक्टिव है, 41,12,552 लोग ठीक हो चुके हैं और अब तक 84,372 लोगों की मौत हो चुकी है.शुक्रवार तक आंध्र प्रदेश में कुल मामले 6 लाख और रिकवरी रेट 5 लाख के पार है हो गई है. राज्य में रिकवरी दर 84.5% है.बिहार में 91.5% की रिकवरी दर के साथ कुल ठीक हुए मामले 1.5 लाख के पार हो गए हैं. इसी समयावधि में 16 राज्य और केंद्रशासित प्रदेश  के एक्टिव केस में कमी दर्ज की गई है. सबसे ज्यादा कमी आंध्र प्रदेश में आई है.

READ More...  MP हनुमान बेनीवाल का ऐलान: पंचायत चुनाव के बाद RLP करेगी बड़ा आंदोलन