Rahul Gandhi की रैली पर BJP का निशाना, सरकारी कर्मचारियों से जुटाई जा रही भीड़

0
159

जयपुर: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की मंगलवार को जयपुर में प्रस्तावित युवा आक्रोश रैली को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) के प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने निशाना साधा है. उन्होंने एक प्रेसवार्ता में सोमवार को कहा कि राहुल गांधी जहां भी जाते हैं वहां बीजेपी को फायदा होता है. पूनिया ने कहा कि कांग्रेस नौजवानों को हथियार बनाकर भ्रम फैला रही है और देश में अराजकता और
अशांति फैलाने की कोशिश हो रही है. उन्होंने सीएए के खिलाफ लाए गए संशोधन को असंवैधानिक बताते हुए कहा कि राहुल गांधी के सामने अपनी सीआर सही करने के लिए मुख्यमंत्री ने ऐसा किया.

राहुल के पास नहीं इन सवालों के जवाब- पूनिया
बीजेपी ने किसान कर्जमाफी, किसानों की आत्महत्या, बेरोजगारी भत्ते और महिला अत्याचारों को लेकर राहुल गांधी से सवाल भी पूछे हैं. सतीश पूनिया ने कहा कि प्रदेश में सरकारी आंकड़े के मुताबिक भी 20 लाख किसानों के ही कर्ज माफ हुए वहीं 27 लाख बेरोजगारों में से केवल 1 लाख 28 हजार को बेरोजगारों को भत्ता दिया गया. इतना ही नहीं महिला अत्याचार में भी राजस्थान तीसरे नम्बर पर है और मध्य प्रदेश के बाद राजस्थान में सबसे ज्यादा बलात्कार हुए लेकिन राहुल गांधी के पास इन सवालों के जवाब नहीं हैं. सतीश पूनिया ने आशंका जताई की कांग्रेस के शांति मार्च में अशांति होने की पूरी आशंका है।

सरकारी कर्मचारियों से जुटाई जा रही भीड़
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि राहुल गांधी की रैली में भीड़ जुटाने के लिए सरकारी कर्मचारियों को धमकाया जा रहा है. उन्होंने एक सर्कुलर का हवाला देते हुए कहा कि कॉलेज शिक्षकों को स्वयं रैली में उपस्थित होने को कहा गया है. साथ ही उन्हें अपने साथ विद्यार्थियों को भी लाने की हिदायत दी गई है. रैली में आने के लिए शिक्षकों को तबादले का भय दिखाया जा रहा है. पूनिया ने रैली स्थल अल्बर्ट हॉल रखे जाने पर चुटकी लेते हुए कहा कि आम तौर पर कवि सम्मेलनों के लिए इस स्थान का चयन किया जाता है और कांग्रेस की युवा आक्रोश रैली में भी कवि सम्मेलन की तरह हास्य की गुंजाइश बनी रहेगी.

READ More...  चाइल्ड हेल्‍पलाइन को फोन कर कहा- मुझे बचाओ, मां करवाना चाहती थी बेटी से गलत काम