Rajasthan: खाप पंचायत ने रेप पीड़िता पर लगाया 5 लाख का जुर्माना, हुक्‍का पानी भी किया बंद

0
116

बाड़मेर : राजस्थान के गांवों में आज भी खाप पंचों की तानाशाही जारी है. पश्चिमी राजस्थान में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बॉर्डर पर स्थित बाड़मेर जिले में हाल ही में ऐसा ही एक मामला सामने आया है. यहां रेप (Rape) के एक मामले में राजीनामा नहीं करने पर कथित जातीय पंचों ने पीड़िता के परिवार को न केवल समाज से बहिष्कृत कर उसका हुक्का पानी बंद कर दिया, बल्कि 5 लाख रुपए के आर्थिक दंड देने का तुगलकी फरमान भी सुना डाला. अब पीड़िता ने इस मामले में पुलिस अधीक्षक के समक्ष न्याय की गुहार लगाई है. इस पर एसपी ने आरोपी पंचों के खिलाफ मामला दर्ज करने के निर्देश दिए हैं.

ताजा मामला बाड़मेर जिले के गुड़ामालानी थाना इलाके में सामने आया है. इलाके के एक गांव की पीड़िता ने पुलिस अधीक्षक को बताया कि इसी वर्ष गत 22 जनवरी को वह अपने घर पर अकेली बैठी थी. उसी समय अणखिया निवासी दिनेश उर्फ देवाराम जाट घर में घुस आया और डरा धमका कर उससे रेप किया. बाद में धमकी दी कि अगर किसी को बताया तो जान से मार देगा. पीड़िता ने बताया कि आरोपी की धमकी के आगे उसने हिम्मत नहीं हारी और गुड़ामालानी थाने में रिपोर्ट देकर आरोपी के खिलाफ रेप का मामला दर्ज कराया. इस पर पुलिस ने उसे गिरफ्तार भी कर लिया.

जमानत पर छूटते ही दबाव बनाना किया शुरू
पांच से छह महीने में आरोपी की जमानत हो गई. पीड़ि‍ता का कहना है कि वह 8 जून को घर जा रही थी, उसी दौरान आरोपी दिनेश ने आकर उसके साथ मारपीट की और मामले में राजीनामा करने का दबाव बनाया. पीड़िता के परिवार ने राजीनामे से इनकार किया तो आरोपी ने जातीय पंचों का सहारा लेकर पीड़ित परिवार को समाज से बहिष्कृत करा दिया. जातीय पंचों ने पीड़ित परिवार का हुक्का-पानी बंदकर 5 लाख रुपए के आर्थिक दंड का फरमान सुना दिया. पीड़ित परिवार पर जातीय पंचों द्वारा लगातार राजीनामे का दबाव बनाया जा रहा है. राजीनामा नहीं करने पर जान से मारने की भी धमकियां दी जा रही है.

READ More...  3 लोगों पर हमला करने वाले पैंथर को ग्रामीणों ने मार कर दफनाया,वन विभाग को खबर तक नहीं

एसपी ने मामला दर्ज करने के आदेश

पीड़िता ने जातीय पंच सरपंच पति हड़मानराम विश्नोई, केवलचन्द जाट, खेताराम, देदाराम, श्रीराम और मेहाराम जाट सहित करीब डेढ़ दर्जन जातीय पंचों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है. पुलिस अधीक्षक आनंद शर्मा ने बताया कि पीड़िता ने रिपोर्ट दी है. उसके आधार पर गुड़ामालानी पुलिस थाने में मामला दर्ज करने के आदेश दे दिए हैं. जल्द ही नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.