गुर्जर आंदोलन को लेकर 223 लोगों पर मुकदमा, बैंसला बोले- दिवाली पटरी पर मनाएंगे

0
21

राजस्थान में गुर्जर आंदोलनकारियों से वार्ता विफल होने के बाद राज्य सरकार ने अब कड़ा रुख अपनाने का फैसला किया है. आंदोलनकारी नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला और राजस्थान सरकार के खेल राज्य मंत्री अशोक चांदना के बीच वार्ता में सहमति नहीं बनने के बाद 223 आंदोलनकारियों पर मुकदमा दर्ज किया गया है.

गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा है कि अगर मांगे नहीं मानी गई तो पटरी पर ही दिवाली मनाएंगे. वार्ता विफल होने के बाद जयपुर लौटे मंत्री अशोक चांदना ने कहा कि जितनी मांगें मानी जा सकती थीं वह सब राजस्थान सरकार ने मान ली हैं और आगे भी मानेंगे. मगर गुर्जर नेता गैरवाजिब मांगें कर रहे हैं जिसे मानना संभव नहीं है.

बता दें कि गुर्जर नेताओं के राजस्थान में सोमवार से चक्का जाम करने के ऐलान के बाद राजस्थान सरकार के मंत्री अशोक चांदना वार्ता के लिए हिंडौन पहुंचे थे. जहां पर ढाई घंटे तक दोनों के बीच बातचीत हुई मगर सहमति नहीं बन पाई. उसके बाद नाराज होकर कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के बेटे विजय बैंसला वापस जाकर पटरी पर बैठ गए. वार्ता टूटने के बाद आंदोलन तेज होने का डर सताने लगा है.

गौरतलब है कि पहले से ही आंदोलन की वजह से 5 जिलों में 10 दिनों से इंटरनेट बंद है और रोज 30 से ज्यादा ट्रेनें प्रभावित हो रही हैं. रोडवेज की बसों के बंद होने की वजह से दिवाली पर आने-जाने वाले लोगों को भी काफी दिक्कतें हो रही हैं.

 

READ More...  पावर ट्रांसफार्मर में लगी आग, करणपुर क्षेत्र के 45 गाँवो की बिजली गुल