राजस्थान: होटल पॉलिटिक्स के बीच दिल्ली आए डिप्टी CM सचिन पायलट, सियासी चर्चा तेज

0
328

जयपुर. राज्यसभा चुनाव (Rajya Sabha Election) से पहले राजस्थान (Rajasthan) में राजनीतिक  उथल-पुथल तेज हो गई है. दिल्ली से आए एक फोन कॉल ने सियासी पारा और बढ़ा दिया है. शनिवार दोपहर अचानक डिप्टी सीएम सचिन पायलट दिल्ली के लिए रवाना हुए. आला कमान से बुलावे के बाद सियासी हलकों में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. दरअसल, शनिवार को सचिन पायलट कांग्रेस की वर्कशॉप ले रहे थे. बताया जा रहा है कि जैसे ही सेशन खत्म हुआ उनको दिल्ली से एक कॉल आया. डिप्टी सीएम फिर फौरन दिल्ली के लिए रवाना हो गए. सूबे में चल रही राज्यसभा चुनाव की सियासत को देखते हुए सचिन पायलट का ये दौरा काफी अहम माना जा रहा है.

मालूम हो कि राज्यसभा चुनाव के चलते राजस्थान में जारी उठापटक के बीच कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों की राजधानी जयपुर के सात सितारा होटल में की गई स्वैच्छिक बाड़ेबंदी की कमान खुद सीएम अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने संभाल रखी है. सीएम रात को विधायकों के साथ ही रुक रहे हैं. शुक्रवार देर रात को सीएम गहलोत ने होटल में कांग्रेस और निर्दलीय विधायकों के साथ संवाद भी किया. अब 19 जून को वोटिंग होने तक सभी विधायक स्वैच्छिक बाड़ेबंदी में ही रहेंगे.

पीसी में लगाए गंभीर आरोप
गौरतलब हो कि राज्यसभा चुनाव को लेकर राजस्थान में कांग्रेस विधायकों की बाड़ाबंदी के बाद बढ़ रही हलचल के बीच शुक्रवार को सीएम अशोक गहलोत, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, राज्यसभा चुनाव के कांग्रेस के पर्यवेक्षक रणदीप सुरजेवाला, प्रदेश प्रभारी अविनाश पांडे और राज्यसभा प्रत्याशी केसी वेणुगोपाल ने जयपुर में साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजीपी और केन्द्र सरकार पर हमला बोला था. सीएम अशोक गहलोत ने हाल में राज्यसभा चुनाव के मद्देनजर बीजेपी पर विधायकों को प्रलोभन देने का आरोप लगाया था. गहलोत ने कहा था कि बीजेपी चुनाव में समर्थन लेने के लिए विधायकों की हॉर्स ट्रेडिंग में लगी है.

READ More...  कांग्रेस ने भारत की प्रेस स्वतंत्रता रैंक गिरने पर BJP को घेरा, जावड़ेकर बोले- मीडिया को पूरी आजादी