राजस्थान मे 4 से 9 शहरों के बीच चलेंगी फास्ट ट्रेनें, करना पड़ेगा सुविधा पर ये खर्च

0
42

देश में रेलवे के निजीकरण को लेकर बहस चल रही है और दूसरी तरफ रेलवे ने निजी ट्रेनों को चलाने की पूरी तैयारी भी कर ली है.

जयपुर. देश में रेलवे के निजीकरण (Privatization of railways) को लेकर बहस चल रही है और दूसरी तरफ रेलवे ने निजी ट्रेनों को चलाने की पूरी तैयारी भी कर ली है. पहले मिली जानकारी के मुताबिक उत्तर पश्चिम रेलवे (NWR) जोन में 20 ट्रेनें चलाया जाना प्रस्तावित था. लेकिन अब इसके अलग-अलग जोन से कितनी-कितनी ट्रेनें चलेंगी इसकी भी संभावित सूची सामने आ गई है. प्रदेश में 4 से 9 शहरों के बीच ट्रेनें चलाई जाएंगी.

224 निजी ट्रेनों के संचालन को मंजूरी
रेल मंत्रालय ने हाल ही में देशभर में अलग अलग रूट्स पर 224 निजी ट्रेनों के संचालन को मंजूरी दे दी है. इसमें ट्रेनों को जोनवार बांटा गया है. इन जोन को कलस्टर का नाम दिया गया है. NWR में 10 जोड़ी ट्रेनों यानी 20 ट्रेन के संभावित संचालन का मसौदा तैयार किया गया है. ये राज्य के 4 से 9 शहरों के बीच रेलें चलाई जाएंगी. जयपुर से मुंबई, दिल्ली, जैसलमेर और वैष्णो देवी के लिए निजी ट्रेन संचालित करने का प्रस्ताव तैयार किया गया है.

 

 

 

READ More...  मोदी बोले- 'देश में डिटेंशन सेंटर नहीं', तो क्या सरकार के ये जवाब झूठ हैं, झूठ हैं, झूठ हैं ?