लोगों को जान जोखिम में, कोटा मे उजाड़ नदी पर बनी पुलिया पर कई फ़ीट पानी भरा

0
35

बारिश में नदी-नालों पर बनी पुलियाओं पर बहते पानी के बीच आवागमन करने के दौरान प्रदेशभर में हर साल कई हादसे घटित होते हैं. पुलियाओं को पार करते समय नदी-नालों में बहने से कई लोग अपनी जान भी गंवा देते हैं. बावजूद इसके लोग हादसो से कोई सबक नहीं ले रहे. ऐसा ही नजारा इन दिनों कोटा जिले के कुंदनपुर क्षेत्र में भी नजर आ रहा है. यहां ग्रामीण अपनी जान खतरे में डालकर नदी की पुलिया पर बहते पानी के बीच आवागमन कर रहे हैं. कोटा जिले के सांगोद क्षेत्र से निकल रही उजाड़ नदी है.

उजाड़ नदी पर करीब-करीब सभी जगह पुलियाएं उंची हो गई, लेकिन कुंदनपुर में नदी पर बनी पुलिया की उंचाई अब भी काफी कम है. ऐसे में थोड़ी सी बारिश के बाद ही नदी की पुलिया पर कई फीट पानी बहने लगता है. हाल ही में क्षेत्र में हुई बारिश के बाद इन दिनों पुलिया से दो से तीन फीट पानी की चादर चल रही है. बावजूद इसके लोग अपनी जान खतरे में डालकर बहते पानी के बीच पुलिया पार करते नजर आते हैं.

पुलिया पर पानी का तेज बहाव है, ऐसे में लोग एक दूसरे का हाथ पकड़कर पुलिया के एक हिस्से से दूसरे हिस्से तक आ-जा रहे हैं. महिलाएं हो या फिर बच्चे, सब इसी तरह रोजाना पुलिया को पार करते आ रहे है. यहां आवागमन के दौरान जरा सी चूक लोगों की जान पर भारी पड़ सकती है. बावजूद इसके लोग अपनी जान को दांव पर लगाने से नहीं चूक रहे. कुंदनपुर पंचायत मुख्यालय तक आने का अन्य कोई रास्ता नहीं होने से मजबूरन ग्रामीणों को बारिश में इसी तरह रोज अपनी जान जोखिम में डालकर आवागमन करना पड़ता है.

READ More...  IT और BPO कंपनियां अब 31 दिसंबर तक करेंगी घर से काम, सरकार ने 'वर्क फ्रॉम होम' नॉर्म्स में किया बदलाव