राजस्थान में भी हो सकती है शराबबंदी, सीएम अशोक गहलोत ने बनाई कमेटी

0
186

जयपुर: राजस्थान में शराबबंदी को लेकर बड़ा निर्णय लिया जा सकता है. पिछले दिनों एसएमएस अस्पताल में एक लोकार्पण कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि व्यक्तिगत रूप से वे शराबबंदी का समर्थन करता हूं.

बिहार में पूर्ण शराबबंदी लागू होने के बाद सामाजिक और आर्थिक परिवेश में किस तरह के बदलाव हुए हैं. इसका  राजस्थान सरकार आकलन कराने जा रही है. राजस्थान सरकार सर्वे कराकर ये पता लगाने की कोशिश करेगी कि शराबबंदी के बाद बिहार में पहले की अपेक्षा स्थिति में कितना बदलाव हुआ है. बिहार में शराब बंदी के बदले हालातों को जानने के लिए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पांच सदस्यों की कमेटी का गठन कर दिया है. टीम यह देखेगी कि शराब बंदी कैसे लागू की जाए और इससे किस तरह फायदा होगा.

जानकारी के अनुसार, कमेटी बिहार की 11 से 16 दिसंबर तक शराबबंदी की ग्राउंड रिपोर्ट तय करेगी कि राजस्थान में शराबबंदी होगी या नहीं. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बिहार में शराबबंदी के बाद बदले हालातों का आकलन करने के लिए पांच सदस्यों की कमेटी का गठन कर दिया है. कमेटी का मुखिया आबकारी विभाग के आबकारी अतिरिक्त आयुक्त (नीति) छोगा राम देवासी को बनाया गया है.

READ More...  झारखंड रैली में गृह मंत्री अमित शाह बोले- अगले चार महीने में बनने जा रहा भव्य राम मंदिर